" /> अपर मुख्य सचिव का पास लगी टैक्सी को पुलिस ने पकड़ा जांच में खुला ‘काला कारनामा’, मामला दर्ज

अपर मुख्य सचिव का पास लगी टैक्सी को पुलिस ने पकड़ा जांच में खुला ‘काला कारनामा’, मामला दर्ज

मथुरा के कोसीकलां में पुलिस ने अपर मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश का फर्जी पास बनाकर प्रयागराज सवारियों को ले जा रही ट्रैक्सी को चालक सहित पकड़ा है। पुलिस ने टैक्सी को सीज कर चालक के खिलाफ धोखाधड़ी और सवारियों पर लॉकडाउन का उल्लंघन करने का मामला दर्ज कर लिया है।
बुधवार की दोपहर में एसपी ग्रामीण श्रीशचंद्र यूपी-हरियाणा बॉर्डर पर व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने पहुंचे तो उनके सामने बॉर्डर से एक इनोवा आई। इनोवा चालक मनोज कुमार पुत्र रामकिशोर शर्मा, निवासी औरेया ने पूछे जाने पर प्रयागराज जाने के लिए अपर मुख्य सचिव से पास जारी करने की बात कही। मांगने पर चालक ने अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी द्वारा जारी पास दिखाया।
शंका होने पर एसपी देहात श्रीशचंद्र ने इसकी पुष्टि लखनऊ फोन मिलाकर की, जहां से पता चला कि ऐसा कोई पास उनके या विभाग द्वारा जारी नहीं किया गया है। जिसके बाद चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो चालक ने पास को फर्जी होना स्वीकार किया।
चालक ने बताया उसने यह पास सवारियों से मजबूरी का फायदा उठाते हुए अधिक पैसा वसूलने के लिए बनाया था। वह 30 रुपए किलोमीटर के हिसाब से सवारियों से किराया वसूल रहा था। इनोवा में सवार लोगों को गुरुग्राम की स्पोटर्स कंपनी के कर्मचारी बताया।
पुलिस ने इनोवा को किया सीज
कार चालक मनोज कुमार के खिलाफ धोखाधड़ी कर फर्जी प्रमाणपत्र बनाने, अधिक पैसा वसूलने एवं लॉकडाउन उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया है। पकड़े गए यात्री विनोद कुमार, बड़गांव, प्रयागराज, अवधेश निवासी सोरांव, प्रयागराज, श्यामसुंदर निवासी प्यारेपुर, संजय, बालकिशन यादव, राकेश निवासी कुंडा, प्रतापगढ़ के खिलाफ भी मामला दर्ज कर उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण के लिए भेजा है। एसपी ग्रामीण श्रीशचंद ने बताया कि यात्रियों ने चालक मनोज के खिलाफ धोखाधड़ी करने का मुकदमा दर्ज कराया है।