" /> अफवाह फैलानेवाले 234 आरोपी गिरफ्तार, 433 मामले दर्ज

अफवाह फैलानेवाले 234 आरोपी गिरफ्तार, 433 मामले दर्ज

सोशल मीडिया का गैर इस्तेमाल कर अफवाह और गलत जानकारी फैलाकर सामाजिक तनाव निर्माण करने की कोशिश करनेवालों के खिलाफ महाराष्ट्र साइबर विभाग ने कड़ी कार्रवाई की है। साइबर सेल ने 433 मामले दर्ज किए हैं और 234 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
महाराष्ट्र के साइबर डिवीजन के विशेष पुलिस महानिरीक्षक के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान कुछ अपराधी और उपद्रवी प्रवृत्ति के लोग राज्य में समाजिक भाईचारा बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। महाराष्ट्र साइबर विभाग ने उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की है। राज्य में कुल 433 साइबर मामले दर्ज किए गए हैं और 234 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। राज्य के विभिन्न पुलिस स्टेशनों में कुल 433 अपराध (जिनमें से 26 एनसी हैं) दर्ज किए गए हैं।
महाराष्ट्र साइबर ने इन सभी अपराधों का विश्लेषण किया, तो पाया गया कि आपत्तिजनक व्हाट्सएप संदेशों को अग्रेषित करने के 181 मामले दर्ज किए गए हैं। आपत्तिजनक फेसबुक पोस्ट साझा करने के 170 मामले, टिकटॉक वीडियो साझा करने के 22 मामले और ट्विटर पर आपत्तिजनक ट्वीट के 8 मामले, इंस्टाग्राम पर गलत पोस्ट करने के 4 मामले, अन्य सोशल मीडिया के दुरुपयोग के 48 मामले (ऑडियो क्लिप, यूट्यूब) दर्ज किए गए हैं। इनमें से 105 आपत्तिजनक पोस्ट को हटा दिया गया है। नासिक शहर में एक मामला दर्ज किया गया है, जिसमें आरोपी ने अपने फेसबुक प्रोफाइल पर एक पोस्ट किया था कि दोनों धर्मों के बीच दरार होगी, जिससे कोरोना महामारी के दौरान क्षेत्र में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है।