अब फ्री एंट्री पर भी पलट गया पाक!, पहले दिन भी यात्रियों से वसूलेगा २० डॉलर

करतारपुर कॉरिडोर को लेकर लगातार अपना रुख बदलनेवाले पाकिस्तान ने एक बार फिर से पलटी खाई है। पाकिस्तान ने अब कहा है कि वह ९ नवंबर को करतारपुर गुरुद्वारे के दर्शन के लिए आनेवाले पहले जत्थे से भी २० डॉलर की फीस वसूलेगा। इससे पहले पाकिस्तान ने २० डॉलर फीस वसूलने की बात कही थी लेकिन कॉरिडोर के उद्घाटन के दिन यानी ९ नवंबर को छूट का एलान किया था। खुद पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने यह एलान किया था लेकिन अब पाकिस्तान पलटी मार गया।
इससे पहले ७ नवंबर को उसने पासपोर्ट जरूरी न होने की बात से भी पलटी खाई थी। पाकिस्तान की ओर से सेना ने कहा कि हम सुरक्षा कारणों से पासपोर्ट में छूट नहीं दे सकते हैं। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने कहा था कि हम अपनी संप्रभुता और सुरक्षा से समझौता नहीं कर सकते। बता दें कि गुरुवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि करतारपुर साहिब जानेवाले हिंदुस्थानी श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट जरूरी होगा। कुमार ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ से विरोधाभासी रिपोर्ट्स आ रही हैं। कभी वे कहते हैं कि पासपोर्ट जरूरी है तो कभी कहते हैं कि यह जरूरी नहीं है।

३४० लाइटों से जगमगाएगा कॉरिडोर
जालंधर। ९ नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कॉरिडोर का लोकार्पण करेंगे। पिछले साल भारत में २६ नवंबर को और पाकिस्तान में २८ नवंबर को कॉरिडोर का शिलान्यास किया गया था। कॉरिडोर में हिंदुस्थान की ओर बनी ३.८ किमी सड़क के किनारे ८ हजार पौधे लगाए गए हैं। सर्विस लेन पर २२६ लाइटें और मेन रोड पर ११४ लाइटें लगाई गई हैं।

ये भी पढ़ें… सीनियर सिटीजन का खर्चा उठाएगी ‘आप’ सरकार