" /> अयोध्या में  दिनदहाड़े  फायरिंग,  तीन अभियुक्त गिरफ्तार

अयोध्या में  दिनदहाड़े  फायरिंग,  तीन अभियुक्त गिरफ्तार

अयोध्या में हुई दिनदहाड़े गैस गोदाम के इंचार्ज पर फायरिंग और हत्या व लूट के मामले में तीन अभियुक्त गिरफ्तार किए गए हैं।आरोपियों के पास से दो तमंचा चार जिंदा कारतूस चोरी के 10 हजार रुपए और अन्य सामान बरामद किए गए हैं।प्रत्येक आरोपी पर कार्रवाई करने वाली पुलिस टीम को 25-25 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की गई है।गिरफ्तार अभियुक्त 26 कोतवाली नगर क्षेत्र जीडी इंडेन गैस एजेंसी के गोदाम इंचार्ज की हत्या के मामले में आरोपी हैं. आरोपियों ने 26 फरवरी को दिन दहाड़े अवध विश्वविद्यालय के पीछे स्थित जीडी गैस एजेंसी की गोदाम इंचार्ज रामलाल की हत्या कर दी थी. रामलाल पर आरोपी फायरिंग कर रुपए से भरा बैग उससे छीनकर फरार हो गए थे।

बता जा रहा था कि बाइक में 15 हजार रुपए रखे थे।कोतवाली नगर पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपियों को जनौरा के पास हाईवे के किनारे से किया गिरफ्तार है. उनके पास से लूट व हत्या में प्रयुक्त बाइक, लूट के 10 हजार रुपये, बैग, पीएनबी बैंक पासबुक, चेक बुक, इंडियन गैस की रसीद बुक व स्टॉक रजिस्टर भी बरामद किया गया है।मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी आशीष तिवारी ने बताया कि आरोपियों का लंबा आपराधिक इतिहास रहा है। मामले में अभियुक्त दिलीप सोनी पर 25 अपराधिक मुकदमे दर्ज हैं, जबकि प्रदीप बोर्ड पर 13 और उग्रसेन यादव पर 12 आपराधिक मामले दर्ज हैं। आरोपी प्रदीप गौड़ अयोध्या के तारुन थाना क्षेत्र का रहने वाला है। उग्रसेन यादव हैदर गंज थाने का निवासी है।एसएसपी आशीष तिवारी ने बताया कि गिरोह का सरगना दिलीप सोनी उर्फ सोनू बस्ती जिले का निवासी है. आरोपियों को जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है. कार्रवाई करने वाली पुलिस टीम को प्रत्येक आरोपी गिरफ्तार करने के लिए 25- 25 हजार रुपए इनाम दिए जाएंगे।