" /> अयोध्या में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए संत समाज एक बार फिर सामने आया

अयोध्या में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए संत समाज एक बार फिर सामने आया

भक्तों को सरकार के निर्देशों का पालन करना होगा, जिससे कोरोना की चैन को तोडा जा सके -स्वामी राजकुमार दास

अयोध्या में लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए संत समाज एक बार फिर सामने आया है l संतों ने अपील कर भक्तों से कहा है कि कोरोना संक्रमण को हराने के लिए वे दो दिन के लॉकडाउन में सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन करेंl किसी भी धार्मिकस्थलों में जाने की जरूरत नहीं है l श्री राम जन्मभूमि रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने भक्तों से अपील की है कि जिस तरह कोरोना के संक्रमण बढ़ रहे हैं उसका अयोध्या में भी प्रभाव पड़ा हैl भक्तों से निवेदन है कि वे घरों में रहकर पूजा-अर्चना करेंl उनको किसी भी धार्मिकस्थलों में जाने की जरूरत नहीं है, इससे सभी लोग कोरोना से बच सकेंगे l उन्होंने कहा कि कोरोना एक महामारी हैl ऐसे में कोई भी व्यक्ति घर से नहीं निकले और कहीं भी जाना उचित नहीं हैl मंदिरों में भी जाना उचित नहीं हैl मंदिरों में भीड़ हो सकती है, जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ सकता हैl
वहीं श्रीरामवल्लभाकुंज की संंचालन संस्था जानकी जीवन ट्रस्ट के प्रमुख स्वामी राजकुमार दास का कहना है कि कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए सरकार ने लॉकडाउन का उचित निर्णय लिया हैl भक्तों को सरकार के निर्देशों का पालन करना होगा, जिससे कोरोना की चेन को तोडा जा सकेl भक्तों से आह्वान है कि वे दो दिन तक मंदिरों में नहीं आएं l मंदिरों में होनेवाली भीड़ से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता हैl अयोध्या में लॉकडाउन को लेकर जिला प्रशासन सतर्क हैl जिलाधिकारी अनुज कुमार झा जिले में घूमकर लॉकडाउन को सख्ती से पालन करा रहे हैंl अयोध्या के धार्मिकस्थलों पर भी लोगों को सतर्क किया जा रहा हैl सड़कें सूनी हैं और मंदिरों में भी श्रद्धालु नाममात्र के पहुंच रहे हैंl मंदिरों में पहुंचनेवाले श्रद्धालुओं की थर्मल स्कैनिंग की जा रही है व हाथों को सैनिटाइज कराया जा रहा है, उसके बाद ही मंदिरों में प्रवेश करने को मिल रहा हैl मंदिरों में भक्तों से दो दिन घर से नहीं निकलने का संदेश भी दिया जा रहा हैl