" /> अलादीन का चिराग लोटे में

अलादीन का चिराग लोटे में

बचपन में अलादीन और उसके चिराग की कहानियां सभी ने सुनी हैं। लोगों में ये मान्यता हुआ करती थी कि अलादीन का चिराग सबकी मनचाही ख्वाहिशें पूरी कर सकता है। ऐसे में मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच यूनिट-२ के पास हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें अलादीन का चिराग एक लोटे में मौजूद बताया जा रहा था। दरअसल, मुंबई में तीन आरोपियों ने तांबे के एक लोटे को जादुई लोटा बताकर एक व्यक्ति से ९ लाख रुपए लूट लिए। आरोपियों का कहना था कि इस लोटे में रेडिएशन की पावर है और इसे घर ले जाने से सुख-संपत्ति आती है।
बता दें कि मुंबई में तीन आरोपियों ने हाल ही में एक व्यक्ति को अनोखे ढंग से लूटने की योजना बनाई। आरोपियों ने बताया कि उनके पास ‘कॉपर इरिडियम राईस पुलिंग’ नाम की एक दुर्लभ धातु है, जिसे खरीदने पर आर्थिक रूप से काफी ज्यादा फायदा होता है। आरोपियों ने शिकायतकर्ता को बताया कि इस विशेष प्रकार के लोटे पर केमिकल लगाने से ‘कॉपर इरिडियम राईस पुलिंग’ नामक दुर्लभ धातु तैयार की जाती है। इस धातु से घर में सुख-सौभाग्य आता है और इसकी बाजार में बहुत ज्यादा डिमांड है।
आरोपियों ने अपने फोन में शिकायतकर्ता को भाभा अणुसंधान केंद्र का भारत सरकार का पत्र दिखाया और कहा कि इस धातु की दिन-ब-दिन मांग बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि इसे बनाने में लगभग ६ से ७ लाख रुपए खर्च हुए हैं और इसे मार्वेâट में ५ करोड़ रुपए कीमत तक बेचा जा सकता है। आरोपियों की बातों में आकर शिकायतकर्ता ने उन्हें ९ लाख रुपए दे दिए। जब वह लोटे को लेकर घर आया और दो दिन तक उस पर केमिकल लगाकर रेडिएशन लाने की कोशिश की। केमिकल लगाने के बावजूद जब कुछ नहीं हुआ तो उसने दोबारा आरोपियों से संपर्क किया। इस पर आरोपियों ने कहा कि रेडिएशन के लिए विशेष प्रकार के केमिकल की आवश्यकता होती है और उन्होंने उससे और पैसे मांगे। इसके बाद शिकायतकर्ता को आरोपियों पर शक हो गया और उसने मुंबई पुलिस की क्राइम यूनिट-२ से संपर्क किया। पुलिस ने मामले की जांच कर आरोपियों को अग्रीपाड़ा के सात रास्ता स्थित शिरीन थिएटर के पास से गिरफ्तार कर लिया।