" /> आईटी सेक्टर में कोरोना की मार सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई

आईटी सेक्टर में कोरोना की मार सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई

कोरोना संक्रमण पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को खस्ता कर दिया है। लॉक डाउन की वजह से काम काज को ठप्प कर दिया गया है, इसकी वजह से देश के आईटी सेक्टर पर गहरा असर हुआ है। कई कंपनियां अपने कर्मचारियों का वेतन नही दे पा रही है और इसके चलते कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को फोन कर नौकरी पर नहीं आने के निर्देश दिए हैं। इसको देखते हुए कुछ लोगों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है।

इस कारण कर्मचारियों में भय का माहौल फैल गया है। नौकरी खो जाने के डर से अब लोग सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटा रहे हैं। एडवोकेट राजेश इनामदार ने बताया कि उन्होंने इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। याचिका को दायर करने के लिए राष्ट्रीय सूचना प्रौद्योगिकी सीनेट एसोसिएशन, संस्थापक अध्यक्ष शिवसेना के उप नेता डॉ रघुनाथ कुचिक, महासचिव श्री हरप्रीत सलूजा, विवेक मिस्त्री का महत्वपूर्ण योगदान है। कोरोना की बढ़ती व्यापकता को देखते हुए देश में लॉक डाउन की अवधि भी बढ़ा दी गई थी। नतीजतन, आईटी कंपनियां कर्मचारियों के वेतन में 25 से 30 प्रतिशत की कटौती कर रही हैं। इसके अलावा कई कंपनियां कर्मचारियों का वेतन होल्ड पर रखी हुई है।