" /> कोरोना मरीजों को उपलब्ध होंगे और 8,000 बेड

कोरोना मरीजों को उपलब्ध होंगे और 8,000 बेड

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मुंबई में बिस्तर उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। आगामी सप्ताह में 8,000 से अधिक बिस्तर उपलब्ध होंगे। गोरेगांव, महालक्ष्मी, मुलुंड, दहिसर और भायखला में कोविड केंद्र बनाने का काम अंतिम चरण में है। गोरेगांव और महालक्ष्मी रेसकोर्स में कोविड केंद्र अगले एक से दो दिनों में शुरू हो जाएगा। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने दी। फेसबुक लाइव पर बोलते हुए उन्होंने उक्त जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मुंबई में कोरोना के रोगियों के लिए बेड उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। निजी अस्पतालों में 80 प्रतिशत से अधिक बेड लेने के निर्णय से 53 बड़े अस्पतालों में लगभग 12,000 बेड उपलब्ध हुए हैं, जिनमें गहन देखभाल इकाई में बेड भी शामिल हैं। गोरेगांव में 2,600 बेड के कोविड केंद्र का निर्माण पूरा हो चुका है। महालक्ष्मी रेसकोर्स पर 300 बिस्तरों के कोविड केंद्र का निर्माण किया गया है। अगले दो दिनों में केंद्र शुरू हो जाएगा। इसके बाद मुलुंड में 2,000 बेड, दहिसर में 2,000 बेड और भायखला में 2,000 बेड के केंद्र का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है।