आदित्य ठाकरे का विश्वास, नई संकल्पना और उपक्रम को मिलेगी गति, कल्याण में शिक्षा का नया दलान

मुंबई यूनिवर्सिटी के कल्याण में खोले गए नए उपकेंद्र से नई संकल्पना और उपक्रम को गति मिलेगी, ऐसा विश्वास शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने जताया। कल कल्याण उपकेंद्र का उद्घाटन आदित्य ठाकरे के हाथों हुआ। अपने संबोधन में आदित्य ठाकरे ने कहा कि देश में शिक्षा की नई पॉलिसी आ रही है। प्रत्येक बातें शिक्षा से जुड़ी हुई हैं इसलिए सिर्फ जानकारी देकर काम नहीं चलेगा, ज्ञान देने की जरूरत है। यूनिवर्सिटी को ये ज्ञान प्रत्येक गांव और गली तक पहुंचना होगा। सजग होकर बेरोजगारी कम करनेवाली शिक्षा देनी चाहिए। केवल इंजीनियरिंग की ही शिक्षा दी जाए ऐसा नहीं बल्कि इनोवेशन लैब, अर्बन टाउन प्लानिंग जैसी नई संकल्पनाओं को समर्थन देने की जरूरत है। इस जगह पर समुद्री जीवों पर अभ्यास किया जाएगा ये खुशी की बात है, ऐसा आदित्य ठाकरे ने कहा।
बता दें कि लंबे इंतजार के बाद आखिरकार कल मुंबई यूनिवर्सिटी के कल्याण उपकेंद्र की शुरुआत हुई। शिवसेना नेता व युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे के हाथों कल नए दलान का उद्घाटन किया गया। इस मंगलमय क्षण का गवाह बनने के लिए कल्याण सहित डोंबिवली, अंबरनाथ, बदलापुर, उल्हासनगर, कर्जत, कसारा के छात्र और कई कॉलेज प्रशासन के प्रतिनिधि उपस्थित थे। कल्याण उपकेंद्र में स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग के आठ अभ्यासक्रम शुरू होने से डिग्री की शिक्षा लेनेवाले छात्रों में खुशी है। गौरतलब है कि २००५ में शिवसेना ने पहली बार कल्याण उपकेंद्र शुरू करने की मांग की। इस बात को संज्ञान में लेते हुए २००७ में यूनिवर्सिटी ने उपकेंद्र शुरू करने की घोषणा की। जिसके बाद मनपा ने महज एक रुपए लेकर उपकेंद्र के लिए वायलेनगर में जमीन दी। २०१० में इमारत के निर्माण का भूमिपूजन किया गया। २०१३ में यूनिवर्सिटी ने इमारत के लिए ढाई करोड़ की निधि दी। २०१७ में इमारत बनकर तैयार हो गई लेकिन पिछले २ साल से इसका उद्घाटन नहीं हो पा रहा था। शिवसेना ने आंदोलन करने का निर्णय लिया जिसके बाद कल इसका उद्घाटन किया गया। छात्रों को आधुनिक काल की शिक्षा मिलेगी ऐसा विश्वास शिवसेना नेता और ठाणे जिल्हा पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने व्यक्त की। संशोधन और रोजगारोन्मुख सक्षम शिक्षा देने के लिए कल्याण उपकेंद्र महत्वपूर्ण भूमिका निभाए इसके लिए सरकार हर मुमकिन मदद करेगी, ऐसी बात उच्च व तकनीकी शिक्षा राज्यमंत्री रवींद्र वायकर ने कही।

यूनिवर्सिटी का पहला इंजीनियरिंग विभाग
मुंबई यूनिवर्सिटी ने पहली बार खुद का इंजीनियरिंग विभाग और वो भी कल्याण के उपकेंद्र में इसकी शुरुआत करने की जानकारी कुलपति सुहास पेडणेकर ने दी। इस विभाग में एमटेक इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियर इन टेक्नोलॉजी, ट्रांसपोर्टेशन इंजीनियरिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड मशीन लर्निंग, मास्टर इन साइंस ओशनोग्राफी, पीएचडी इन कंप्यूटर इंजीनियरिंग, केमिकल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी पाठ्यक्रम की शुरुआत की जाएगी। इसी के साथ कल्याण, डोंबिवली अंबरनाथ, बदलापुर, उल्हासनगर, कर्जत कसारा के ३०० से भी अधिक कॉलेजों को यूनिवर्सिटी से संबंधित कॉलेजों के लिए अब मुंबई में आने की जरूरत नहीं पड़ेगी।