" /> इतनी कन्फ्यूजन क्यों?

इतनी कन्फ्यूजन क्यों?

इंग्लैंड दौरे के लिए पाकिस्तान की २९ सदस्यीय टीम को २९ जून को रवाना होना है। इससे पहले पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने सभी खिलाड़ियों का २० और २५ जून को दो बार कोरोना टेस्ट कराया। इसमें मोहम्मद हफीज समेत १० खिलाड़ी पॉजिटिव पाए गए। हफीज ने पहली रिपोर्ट के बाद परिवार के साथ खुद के खर्चे पर टेस्ट कराया, जिसमें उनकी रिपोर्ट निगेटिव निकली। पीसीबी ने जब दूसरा टेस्ट कराया, तब सूत्रों के मुताबिक हफीज की रिपोर्ट दोबारा पॉजिटिव पाई गई। ऐसे में पाकिस्तान क्रिकेट अब दुनियाभर में मजाक बन गया है। ७२ घंटे में पॉजिटिव, निगेटिव और फिर पॉजिटिव पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चौपड़ा ने ट्वीट किया, ‘‘पाकिस्तान क्रिकेट का दूसरा नाम कन्फ्यूजन रहा है, लेकिन इस बार तो यह सब अलग ही लेवल पर पहुंच गया है। पॉजिटिव, निगेटिव और फिर पॉजिटिव… सबकुछ ७२ घंटों में।’’ पीसीबी की पहली रिपोर्ट के बाद हफीज ने प्राइवेट मेडिकल सेंटर की रिपोर्ट शेयर की थी, जिसमें वे निगेटिव आए थे। इसके बाद हफीज ने पीसीबी के आइसोलेशन में रहने से मना कर दिया था। दूसरी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पीसीबी आइसोलेशन प्रोटोकॉल तोड़ने के लिए हफीज के खिलाफ कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है। हालांकि, पीसीबी ने दूसरी रिपोर्ट के सभी नतीजे नहीं बताए हैं। इंग्लैंड दौरे के लिए पाकिस्तान ने २९ सदस्यीय टीम घोषित की थी। ४ खिलाड़ी रिजर्व रखे हैं। टीम को इंग्लैंड दौरे पर अगस्त-सितंबर में ३ टेस्ट और ३ टी-२० की सीरीज खेलनी है। पहला टेस्ट ३० जुलाई को लॉर्ड्स में खेला जाएगा। वहीं, टी-२० सीरीज की शुरुआत २९ अगस्त से होगी।