इमरान ने तैयार की थ्री लेयर टेरर टीम!, तालिबान, जैश-ए-मोहम्मद और दाऊद का गठबंधन

पाकिस्‍तानी पीएम इमरान खान और उनकी खुफिया एजेंसी (आईएसआई) ने हिंदुस्थान में आतंक पैâलाने के लिए थ्री लेयर टेरर टीम तैयार की है। हिंदुस्थान का मोस्‍ट वांटेड आतंकी दाऊद इब्राहिम को हिंदुस्थान में आतंकी हमले के लिए हथियार सप्लाई करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। आईएसआई ने हिंदुस्थान में घुसपैठ कराकर हमले कराने का जिम्मा तालीबान और जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद असगर के भाई रऊफ मोहम्मद असगर को दिया है। खुफिया एजेंसियों के हवाले से यह खबर दी गई है। अब पाकिस्तान तालीबान, जैश-ए-मोहम्मद और दाऊद से गठबंधन करके हिंदुस्थान में तबाही मचाने के लिए तैयारी शुरू कर दी है।

आईएसआई अपनी थ्री लेयर टेरर टीम को राजस्थान की ओर के केरन और कस्बा सेक्टर से हिंदुस्थान में घुसपैठ कराने की कोशिश में है। साथ ही आईएसआई ने तालीबान में शामिल लश्कर के २८ हिजबुल के १२ जैश के १५ आतंकियों और १५ अफगान आतंकियों को पंजाब की तरफ घुसपैठ कराने की साजिश रची है। मिलिशिया सेना के कुछ आतंकी फिलहाल भाई मंसूर खान गांव में हैं, ताकि आरएसपुरा और हीरानगर सेक्टर के रास्ते भी इनकी घुसपैठ कराई जा सके। पाकिस्तानी सेना कुछ आतंकियों को माछिल और गुरेज सेक्टर के लांचिंग पैड पर भी धीरे-धीरे ला रही है। एजेंसीज को आईएसआई के लिए काम कर रहे दाऊद और डी. कंपनी की गतिविधियों की जानकारी मिली है। दाऊद के इशारे पर करांची में क्लिफटन के डिफेंस हाउसिंग एरिया के पास एक मदरसे में लश्कर और जैश के १५ आतंकियों को हिंदी भाषा की कोचिंग दी जा रही है। आतंकियों को हिंदी सही से बोलना सिखाने के लिए डी. कंपनी के कुछ गुर्गों को दुबई से कराची बुलाया गया है। एजेंसियों को शक है कि इन आतंकियों की दुबई से नेपाल के रास्ते हिंदुस्थान में घुसपैठ करवाई जा सकती है। इन आतंकियों को हिंदी सिखाने का मकसद है कि ये हिंदुस्थान के शहरों में लोगों से मिल-जुल जाएं और हमला कर सकें।

 घाटी से ३ आतंकी धराए
श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए ३ आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इसी के साथ भाजपा नेता अनिल परिहार और आरएसएस नेता चंद्रकांत शर्मा की हत्या की गुत्थी भी सुलझ गई है। पुलिस के अनुसार ये तीनों पिछले एक साल से किश्तवाड़ में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में लगे थे। जम्मू जोन के आईजी मुकेश सिंह ने बताया कि पिछले एक साल में किश्तवाड़ में ४ आतंकी घटनाएं हुर्इं। किश्तवाड़ पुलिस के लगातार प्रयास, सीआरपीएफ, सेना और एनआईए टीम की मदद से हमने ये चारों केस सुलझा लिए हैं। गिरफ्तार आतंकियों में से एक निसार अहमद शेख पर भाजपा नेता अनिल परिहार की हत्या की साजिश में शामिल था और उनकी हत्या के समय वहां मौजूद था। बता दें कि पिछले साल १ नवंबर को किश्तवाड़ जिले में भाजपा के प्रदेश सचिव अनिल परिहार और उनके भाई की आतंकियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। आईजी मुकेश सिंह ने यह भी कहा कि आतंकियों से सहानुभूति रखने या मदद करनेवाले किसी भी व्यक्ति से सख्ती से निपटा जाएगा।

ये भी पढ़ें… अब होगा ‘बाप’ अटैक!, बालाकोट से भी बड़ी बला आएगी पाक पर