" /> इसलिए हुआ झगड़ा

इसलिए हुआ झगड़ा

इंडियन प्रीमियर लीग में कोलकाता नाइट राइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच का मैच क्रिकेट से इतर कई कारणों की वजह से चर्चा में रहा। मैच के दौरान आरसीबी के कप्तान विराट कोहली और केकेआर के कप्तान गौतम गंभीर चिन्नास्वामी स्टेडियम पर आमने-सामने थे। मैदान पर दोनों के बीच कहासुनी हो गई थी। जब मैच आरसीबी के पक्ष में चला गया तो मैच के बाद दोनों खिलाड़ियों के बीच वाकयुद्ध हुआ। सात साल बाद केकेआर के क्रिकेटर रजत भाटिया ने उस बहस को याद किया और बताया कि उस दिन विराट और गौतम के बीच क्या हुआ था। दरअसल, विराट कोहली के आउट होने के बाद गौतम गंभीर ने कुछ कहा था, जिसके बाद विराट कोहली ने भी उन्हें गुस्से में कुछ कहा। इसके बाद दोनों खिलाड़ियों ने एक-दूसरे को अपशब्द कहे और अंपायर और दूसरे खिलाड़ियों को बीच-बचाव करना पड़ा था। इस पर रजत भाटिया ने कहा, “ऐसा तभी होता है, जब दोनों टीमों के कप्तान आक्रामक हों। वे अपनी-अपनी टीमों को जीत दिलाना चाहते हैं। दोनों की भिड़ंत के बाद भी वह सिर्फ खेल का हिस्सा था।” उन्होंने कहा, “इसके बाद मैंने कभी गंभीर और कोहली को लड़ते नहीं देखा। मैच की उत्तेजना में कई बार ऐसा हो जाता है, लेकिन इसे बुरा स्वरूप नहीं ग्रहण करना चाहिए।” भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के बारे में रजत ने कहा, “टीम इंडिया के कप्तान की रनों की भूख उन्हें दुनिया बेस्ट बल्लेबाज बनाती है। उनकी इस भूख का कभी अंत नहीं होता। वह जानते हैं कि उन्हें हमेशा परफॉर्म करना है।”