उमंग- कृष्ण मिटाएंगे कष्ट

पूरी आस्था और समर्पण से संकल्प पूजन करना लाभदायी होता है। भगवान श्रीकृष्ण के कुछ मंत्र कई तरह की परेशानियों को दूर करते हैं, ऐसी मान्यता है। प्रस्तुत है कुछ प्रचलित कृष्ण मंत्रों के प्रयोग-
१) विपत्ति-आपत्ति से बचने के लिए
श्रीकृष्ण शरणं मम्’ का जप करें।
२) दैन्य नाश व सुख-शांति के लिए
ॐ नमो भगवते वासुदेवाय’ का जप करें। श्रीकृष्ण भगवान के विग्रह का पंचामृत से अभिषेक कर मेवे का नेवैद्य लगाएं। इस मंत्र को कल्पतरु माना गया है।
३) दारिद्रय निवारण के लिए
`श्री हरये नम:’ का यथाशक्ति जप करें तथा श्रीकृष्ण भगवान के विग्रह का पंचोपचार पूजन कर पंचामृत का नेवैद्य लगाएं।
४) शांति तथा मोक्ष प्राप्ति
ॐ क्लीं हृषिकेशाय नम:’ का जप करें।
५) विवाहादि के लिए
`श्री गोपीजन वल्लभाय स्वाहा’ का जप करें तथा राधाकृष्ण के‍ विग्रह का पूजन करें।
६) घर में सुख-शांति के लिए
ॐ नमो भगवते रुक्मिणी वल्लभाय स्वाहा’ का जप करें तथा कृष्ण-रुक्मणी का चित्र सामने रखें।
७) धन-संपत्ति के लिए
ॐ श्रीं लक्ष्मी वासुदेवाय नम:’। श्री लक्ष्मी-विष्णु की प्रतिमा रखकर पंचोपचार पूजन कर जपें।
उपरोक्त मंत्रों के साथ पूजन में तुलसी का प्रयोग अवश्य करें। पूर्वाभिमुख होकर बैठें। कुशासन तथा श्वेत वस्त्र का उपयोग करें।

वास्तु-तथास्तु
घर में चमगादड़ का प्रवेश अशुभ माना गया है। वास्तु विज्ञान के अनुसार घर में चमगादड़ का आना सूनेपन की निशानी है। घर में कुछ बुरी घटनाएं होने के संकेत होते हैं।
घर की दीवारों में दरारों का होना अशुभ होता है इसलिए जहां दरार हो उसकी मरम्मत करवाएं, दरार का होना धन के लिए अशुभ माना गया है ।
वास्तु शास्त्र में घर पर मकड़ी के जाले को अशुभ माना जाता है इसलिए मकड़ी का जाला घर में न लगने दें।
टूटे हुए आईने से हमेशा नकारात्मक ऊर्जा निकलती रहती है इसलिए घर में जब भी कोई दर्पण या शीशा टूट जाए तो उसे घर से बाहर कर दें।
नल से पानी टपकते रहने को अशुभ माना गया है। नल से लगातार पानी टपकने से धन की हानि होती है। इसलिए जब भी नल से पानी टपकता हो तो उसे ठीक करा लें।
घर की छत पर कबाड़ और बेकार की चीजों को एकत्र न होने दें।
पूजा घर या घर पर कभी भी में बासी फूल को इकट्ठा करके नहीं रखें।
घर में खराब पड़े बिजली के उपकरणों को नहीं रहने देना चाहिए।
घर में कबूतर का घोंसला बनाना वास्तु विज्ञान के अनुसार अशुभ चिन्ह है। माना जाता है इससे घर पर बड़ी मुसीबत आती है।

घर का वैद्य
१) खांसी में हल्दी वाला दूध ले सकते हैं। हल्दी वाले दूध एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं। इसके अलावा हल्दी में एंटी वायरल और एंटी बैक्टीरियल गुण भी होते हैं, जो संक्रमण से लड़ने में मददगार होते हैं।
२) लहसुन भी खांसी से राहत दिलाने में कारगर है। इसके लिए आपको लहसुन को घी में भून कर गर्मागर्म खाना होगा।
३) बीट रूट खाने से खून बनता और बढ़ता है। हीमोग्लोबिन कम हो तब इसका सेवन अवश्य करें।
४) सुबह गर्मपानी में शहद डालकर पीना हर प्रकार की बीमारी से लड़ने की शक्ति देता है।
५) दो लहसुन की कलियां सुबह खाएं। कॉलेस्ट्रॉल कम रहेगा।