" /> उमर हो गई तो गुल हुए!

उमर हो गई तो गुल हुए!

अब ये कहा जा सकता है कि उमर हो गई तो गुल हो गए यानी संन्यास ले लिया। पाकिस्तानी तेज गेंदबाज उमर गुल की क्रिकेट कहानी वैसे तो उन्हें टीम में न लेने से खत्म ही थी अब उनके संन्यास से पटाक्षेप भी हो गया। पाकिस्तान के स्टार तेज गेंदबाज उमर गुल ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। उमर गुल ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिए ४७ टेस्ट, १३० वनडे और ६० ट्वेंटी-ट्वेंटी मैच खेले। ३६ साल के स्टार तेज गेंदबाज उमर गुल ने घरेलू टूर्नामेंट नेशनल कप में अपनी टीम बलूचिस्तान की हार के बाद क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया। उमर गुल ने इंटरनेशनल क्रिकेट में पाकिस्तानी टीम का प्रतिनिधित्व करने को गर्व की बात बताया। तूफानी तेज गेंदबाज ने कहा, ”मैंने क्रिकेट का पूरा आनंद लिया। क्रिकेट की वजह से मैंने कड़ी मेहनत की और मुझे इसका फल भी मिला। इस सफर के दौरान बहुत सारे अच्छे इंसान मिले जिन्होंने किसी ना किसी लेवल पर मेरा साथ दिया, मैं उन सब का शुक्रगुजार हूं।”