" /> उल्हासनगर के पूर्व उप महापौर विनोद ठाकुर नहीं रहे

उल्हासनगर के पूर्व उप महापौर विनोद ठाकुर नहीं रहे

उल्हासनगर के मशहूर राजनीतिज्ञ व 3 बार नगरसेवक रहे विनोद ठाकुर का शुक्रवार की रात को हृदय गति रुक जाने से अस्पताल में निधन हो गया। ठाकुर ढाई वर्ष तक उपमहापौर के पद पर काम कर चुके हैं। उनके पार्थिव शरीर का ठाणे के बालकुम शमशान भूमि में सामाजिक अंतर रखते हुए अंतिम संस्कार किया गया।
विनोद ठाकुर पेशे से भवन निर्माता थे। वे मिलनसार व प्रेमी व्यक्ति थे। 2012 में विनोद ठाकुर ने उल्हासनगर की राजनीति से उल्हासनगर के प्रबल राजनीतिक को घर बैठा दिया था। विनोद ठाकुर व  उनके सुपुत्र धीरज ठाकुर एक समय पर शिवसेना के कट्टर समर्थक बन गए थे पर 2017 में चुनाव हारने के बाद उल्हासनगर से ठाणे रहने चले गए थे। विनोद ठाकुर को गुरुवार को सीने में दर्द होने की शिकायत पर ठाणे के ज्यूपिटर अस्पताल में भर्ती किया गया। उन्होंने उपचार के दौरान शुक्रवार की रात को अंतिम सांस ली। विनोद ठाकुर के स्वर्गवास की सूचना मिलते ही सोशल मीडिया पर उनके चहेते लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।