" /> उल्हासनगर में ड्रोन से होगी लॉकडाउन की रक्षा

उल्हासनगर में ड्रोन से होगी लॉकडाउन की रक्षा

उल्हासनगर में सब्जी विक्रेताओं की भरमार
1 मई से सब्जी विक्रेताओं पर लगेगी रोक
उल्हासनगर में लॉकडाऊन का उल्लंघन करनेवाले 300 से ज्यादा लोगों के खिलाफ उल्हासनगर पुलिस द्वारा मामला दर्ज किए जाने के बाद लोग बाज नहीं आ रहे हैं। सब्जी खरीदने व अन्य बहाने से लोग लॉकडाउन की धज्जियां उड़ा रहे हैं। बिल्डिंगों के टैरेस पर लोग समूह में सैर-सपाटा कर रहे हैं। ऐसे लोगों पर लगाम लगाने के लिए उल्हासनगर पुलिस अब ड्रोन का सहारा ले रही है।
नागरिकों, फल-सब्जी विक्रेताओं द्वारा लॉक डाउन के दौरान तय किए गए नियमों के उल्लंघन के कारण उल्हासनगर मनपा क्षेत्र में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। लोग लॉक डाउन एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। इन्हीं कारणों से उल्हासनगर मनपा आयुक्त सुधाकर देशमुख ने 28 अप्रैल से ३० अप्रैल की रात 12 बजे तक उमनपा क्षेत्र में सभी सब्जी की दुकानें, किराना दुकानें, दूध और फल की दुकानें बंद रखने का आदेश जारी किया गया है। क्षेत्र के सभी नागरिकों, फल-भाजी विक्रताओं, दुकानदारों, गली-मोहल्लों के फेरीवालों सहित सभी व्यवसायियों को इस आदेश का सख्ती से पालन करना होगा। आयुक्त सुधाकर देशमुख ने एक आदेश जारी कर सभी प्रभाग कार्यालय को भेजने का निर्देश दिया है। आयुक्त का मानना है कि इन दिनों बड़ी संख्या में फल और सब्जी विक्रेता घूम रहे हैं। इस कारण उल्हासनगर की स्थिति नियंत्रण में नहीं आ रही है।आयुक्त ने आदेश में लिखा है उमपा उन्हीं लोगों को  लाइसेंस देगी, जो दो वर्ष या उससे अधिक समय से सब्जी या फल बेच रहे हैं। लाइसेंस की प्रति सब्जी व फल विक्रेता को फल व सब्जी बेचने की जगह पर रखनी होगी और जिनके पास लाइसेंस नहीं है उन पर प्रशासनिक कार्यवाही प्रभाग अधिकारी के मार्फत की जाएगी। 1 मई से सब्जी विक्रेताओं पर अंकुश लग जाएगा। उसके बाद सड़क पर सब्जी खरीदने के नाम पर घूमने, सड़क पर क्रिकेट खेलते, अनायास बाइक लेकर घूमनेवाले लोगों पर ड्रोन के मार्फत निगरानी रखकर उमपा व पुलिस विभाग का सिरदर्द दूर करने में ड्रोन वरदान साबित होगा।