" /> उड़ान भरनेवालों के लिए ‘पेड क्वारंटाइन’, जैसा सफर वैसी सुविधा को माडल बनाने लगा जम्मू-कश्मीर प्रशासन

उड़ान भरनेवालों के लिए ‘पेड क्वारंटाइन’, जैसा सफर वैसी सुविधा को माडल बनाने लगा जम्मू-कश्मीर प्रशासन

आप चाहे संपन्न घर से हैं या नहीं, परंतु अगर आप जम्मू-कश्मीर में घर वापसी की खातिर उड़ान का सहारा लेते हैं तो आपको 14 दिनों के अनिवार्य क्वारंटाइन के लिए ‘जेब ढीला’ करना होगा क्योंकि उड़ान भरनेवाले यात्रियों को मुफ्त सरकारी सुविधा नहीं मिलेगी।

यह पूरी तरह से सच है और रियासी जिले ने तो इसे लागू भी कर दिया है। हालांकि जम्मू जिले में लोगों की मर्जी के मुताबिक पेड क्वारंटाइन की सुविधा पेश करने की अभी चर्चा ही चल रही थी। दरअसल, रियासी जिले में भी आनेवाले लोगों के लिए क्वारंटाइन सेंटर बनाए हैं। ये क्वारंटाइन सेंटर श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के आशीर्वाद भवन, पर्यटन विभाग के टीआरसी कांप्लेक्स, मंगल भवन धर्मशाला और रेलवे विभाग के रेस्ट हाउस में हैं। अब जिला प्रशासन ने घरेलू उड़ानों से जिला रियासी में आनेवाले लोगों के लिए सुविधा के तौर पर पेड क्वारंटाइन सेंटर बनाए हैं।

जिला आयुक्त रियासी इंदु कंवल चिब के अनुसार घरेलू उड़ानों से आनेवाले उच्च वर्ग के लोगों के लिए यह सुविधा शुरू की गई है, जो शुल्क अदा कर इन होटलों में रह सकते हैं। इन लोगों को होटल के भीतर ही भोजन आदि उपलब्ध होगा। वहीं, होटल मालिक के साथ ही कर्मचारियों को सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा। घरेलू उड़ानों से आनेवाले लोगों का जम्मू एयरपोर्ट पर ही सैंपल टेस्ट होगा और जिला रियासी से संबंधित इन लोगों को सीधे होटल में ले जाया जाएगा। क्वारंटाइन की समय सीमा 14 दिन की रखी गई है। इन लोगों की रिपोर्ट निगेटिव जितनी जल्दी आ जाती है, उसी के आधार पर इन्हें घरों को रवाना कर दिया जाएगा। अगर किसी की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई तो उसे सीधे जम्मू में आइसोलेशन वार्ड में भेज दिया जाएगा। पेड क्वारंटाइन सेंटर को लेकर सभी तरह की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। कटड़ा में होटल मालिकों की इच्छा से ही पेड क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए हैं।

जिला प्रशासन ने नगर कटड़ा में करीब 20 होटलों को पेड क्वारंटाइन सेंटर में तब्दील किया है। इन होटलों में थ्री स्टार के साथ ही टू स्टार की सुविधा के होटल शामिल हैं, जहां घरेलू उड़ान से जिला रियासी में आनेवाले लोगों को पेड क्वारंटाइन सेंटर की सुविधा दी जाएगी। इसके लिए ‘ए’ व ‘बी’ कैटेगरी बनाई गई है। ‘ए’ कैटेगरी के लिए 3,000 रुपए प्रतिदिन और ‘बी’ कैटेगरी के लिए 2,000 रुपए प्रतिदिन शुल्क रखा गया है। ऐसी ही पेड सुविधा अगले कुछ दिनों में जम्मू जिले में भी शुरू होने जा रही है। जम्मू में फिलहाल यह तय नहीं है कि 14 दिनों के अनिवार्य क्वारंटाइन में भेजे जानेवालों के लिए पेड क्वारंटाइन सुविधा अनिवार्य होगी या स्वैच्छिक।