एग्जाम में आईपैड

बारहवीं की परीक्षा कल से शुरू हो गई है। ऐसे में बोर्ड ने साफतौर पर कह दिया है कि परीक्षा केंद्र में न तो विद्यार्थी, न ही शिक्षकों को मोबाइल ले जाना है लेकिन कल एक लड़की ने अपना एग्जाम आईपैड पर दिया। राज्य बोर्ड में ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी ने एग्जाम में अपना पेपर आईपैड पर लिखा हो। मूवमेंट डिसऑर्डर (शरीर के अंगों का निष्क्रिय होना) से जूझ रही २० वर्षीय निष्का पहली छात्रा है, जो आईपैड की मदद से परीक्षा दे रही है और प्रश्नों के उत्तर लिखकर भेज रही है।
बता दें कि सोफिया कॉलेज में आर्ट शाखा से पढ़ाई कर रही निष्का होसनगड़ी एक ऐसे विकार से लड़ रही है, जिसने उसकी शारीरिक गतिविधियों पर अंकुश लगा दिया है। शरीर भले ही उसका साथ न दे लेकिन उसका हौसला बुलंद है। उसके बाएं हाथ की उंगलियों से वह आईपैड पर टाइप करती है और उसके बाद उसके एक सहयोगी द्वारा पेपर लिखा जाता है। दरअसल उसे बोलने में भी दिक्कत होती है इसलिए वह अपनी उंगलियों के सहारे उत्तर लिख रही है। दसवीं कक्षा में भी छात्रा ने आईपैड की मदद से ही अपना पेपर लिखा था। छात्रा की शिक्षा के प्रति लगन को देखकर कॉलेज प्रशासन काफी खुश है।