" /> एलओसी पर भीषण गोलाबारी, एक नागरिक जख्मी, मकान क्षतिग्रस्त, जवाबी कार्रवाई में उस पार त्राहि-त्राहि

एलओसी पर भीषण गोलाबारी, एक नागरिक जख्मी, मकान क्षतिग्रस्त, जवाबी कार्रवाई में उस पार त्राहि-त्राहि

एलओसी पर पाक सेना द्वारा की जानेवाली गोलाबारी में पुंछ के कस्बा गांव का एक नागरिक घायल हो गया और कई मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं। गोलाबारी कितनी भीषण है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि सेना ने लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कहा है, जबकि भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाक सेना को इतनी क्षति पहुंची कि उस पार त्राहि-त्राहि का माहौल है।

घायल नागरिक की पहचान निसार अली पुत्र बहादुर अली निवासी कस्बा के तौर पर हुई है। वहीं पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का भारतीय जवान कड़ा जवाब दे रहे हैं। दोनों ओर से अभी भी गोलाबारी जारी है। दोपहर बाद से तेज हुए गोलाबारी के इस सिलसिले की वजह से सीमा से सटे रिहायशी इलाकों में दहशत का माहौल व्याप्त है। हालांकि भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई में दुश्मनों की दो चौकियां ध्वस्त व सैनिकों के घायल होने की बात कही जा रही है, परंतु अधिकारिक तौर पर अभी तक इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

पुलिस ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने आज सुबह 11 बजे के करीब भारतीय चौकियों को निशाना बनाते हुए रुक-रुककर हल्की गोलीबारी करना शुरू किया था। भारतीय जवानों ने भी जवाब में पाकिस्तानी चौकियों को निशाना बनाते हुए गोलीबारी की। यह सिलसिला करीब एक-डेढ़ घंटे चला। कस्बा, शाहपुर, किरनी में यह गोलीबारी बारी-बारी से की जा रही थी। परंतु दोपहर दो बजे के बाद पाकिस्तानी सैनिकों ने अचानक कस्बा गांव को निशाना बनाते हुए मोर्टार दागना शुरू कर दिया। गांव में गिरे एक मोटार्र की चपेट में आने से एक स्थानीय नागरिक निसार अली पुत्र बहादुर अली घायल हो गया। उसे जिला अस्पताल पुंछ में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत बेहतर बताई जा रही है। स्थानीय लोगों के अनुसार अभी भी दोनों ओर से जोरदार गोलाबारी जारी है। भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई में कई पाकिस्तानी चौकियों को भी नुकसान पहुंचा है। दो से तीन चौकियां ध्वस्त हुई हैं, जबकि कुछ सैनिक घायल भी हुए हैं। सेना की ओर से अभी तक इसकी अधिकारिक तौर पर कोई पुष्टि नहीं की गई है। सेना ने लोगों को सुरक्षित स्थानों पर जाने को कह दिया है।