" /> एसआरए की प्रत्येक परियोजनाओं में किया जाएगा स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण

एसआरए की प्रत्येक परियोजनाओं में किया जाएगा स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण

राज्य के गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने की  घोषणा
कहा- मुख्यमंत्री से हो चुकी है चर्चा

कोरोना का संक्रमण झोपड़पट्टी परिसर में अधिक संख्या में हो रहा हैं जो कि चिंता का विषय बनता जा रहा है इसलिए आगे से झोपड़पट्टियों का विकास एसआरए योजना के अंतर्गत करते समय प्रत्येक एसआरए परियोजना में एक से 5 हजार वर्गफुट के स्वास्थ्य केंद्र का भी निर्माण किया जाएगा। उक्त घोषणा राज्य के गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने दी है।
बता दें कि आव्हाड ने शुक्रवार को एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि इस प्रकार का एक आदेश भी पारित किया जा चुका है और इस संदर्भ में राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी चर्चा हो चुकी है। आव्हाड ने कहा कि एसआरए परियोजना के अंतर्गत रहनेवाले प्रत्येक नागरिकों को आगे से स्वास्थ्य केंद्र भी उपलब्ध होनेवाला है। आव्हाड का कहना है कि झोपड़पट्टी इलाकों में पिछले डेढ़ महीने से कोरोना का संक्रमण अधिक होता दिखाई दे रहा है। चाहे धारावी हो अथवा मुंबई परिसर के अन्य क्षेत्र या फिर ठाणे शहर की झोपड़पट्टी हो इन जगहों पर अधिक प्रादुर्भाव इस वैश्विक महामारी का हो रहा है। झोपड़पट्टियों में रास्ते संकरे होने के कारण और अन्य सुविधाओं की कमी होने के कारण आम झोपड़ाधारक को अस्पताल तक पहुंचने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इसलिए तत्काल उपचार मिलना भी कठिन हो जाता है। इसके अलावा इन्हें क्वारंटीन करने और इनके संपर्क में आनेवालों की खोज करने में भी प्रशासन को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि सभी उपाय योजनाएं की जा रही हैं लेकिन प्रशासन को परेशानी उठानी पड़ रही है। फिर भी झोपड़पट्टियों में इसका संक्रमण कम नहीं हो रहा हैं इसलिए आगे से जिन-जिन झोपड़पट्टियों का विकास एसआरए योजना के अंतर्गत किया जाएगा, ऐसी प्रत्येक एसआरए स्कीम में एक हजार से पांच हजार वर्गफुट के स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण किया जाएगा।
आव्हाड ने कहा कि यह सभी स्वास्थ्य केंद्र का निर्माण करते समय फ्री ऑफ एफएसआई बेसिस पर बनाने का भी निर्णय एसआरए ने लिया है। साथ ही इस संदर्भ में आदेश भी पारित किया जा चुका है।