एसआरए स्कीम में अब ३०० वर्गफुट का घर

एसआरए के माध्यम से अब मुंबई शहर में ३०० वर्गफुट का घर मिलेगा, ऐसा निर्णय राज्य सरकार ने लिया है। यह जानकारी राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दी है।
मायानगरी मुंबई को झोपड़पट्टी मुक्त करने की योजना सरकार की है। शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने शिवसेना-भाजपा की युति सरकार के समय शिवशाही पुनर्वसन योजना साकार की थी। इस योजना के तहत हिंदुस्थान में पहली बार झोपड़ाधारकों को मुफ्त में मकान देने की बात सामने आई थी। इस योजना के तहत २२५ वर्गफुट का मकान बिल्डिंग में दिया गया था। उसके बाद राज्य में आघाड़ी सरकार आई। इस सरकार ने इस योजना का नाम बदलकर ‘एसआरए’ योजना रखा। इस योजना के तहत झोपड़पट्टी पुनर्वसन के तहत २६९ वर्गफुट का मकान बिल्डिंग में मुफ्त मिलने लगा लेकिन बहुत दिनों से शिवसेना विधायक मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मुफ्त में मिलनेवाले मकानों का एरिया ३०० वर्गफुट करने की मांग कर रहे थे। इस मांग के लिए सुनील प्रभु ने एक ज्ञापन मुख्यमंत्री फडणवीस को दिया था। मुख्यमंत्री फडणवीस ने उनकी इस मांग पर अपनी सहमति जताते हुए नगर विकास को इस काम को करने का आदेश दिया था। ८ मई, २०१८ को सरकार ने एक अधिसूचना निकालकर एसआरए स्कीम में ३०० वर्गफुट का घर देने की घोषणा की। यह सूचना १२ नवंबर से लागू हो गई है, जिसके चलते अब एसआरए स्कीम में लोगों को ज्यादा एरिया मिलनेवाला है।