ओए राजू प्यार मत करियो! वेलेंटाइन का प्यार नल्ला है

`ओए राजू प्यार न करियो, डरियो, दिल टूट जाता है’ फिल्म अभिनेता गोविंदा की एक फिल्म का यह चर्चित गाना इन दिनों फिर से चर्चा में आ गया है। यह गीत मियां-बीवी के तकरार को सुलझानेवाली संस्था के पैरोकार गुनगुना रहे हैं। इन संस्थाओं के पास उन प्रेमी जोड़ों के तकरार के मामले ज्यादा आ रहे हैं, जिन्होंने वेलेंटाइन डे पर प्यार का इजहार एक दूसरे से किया था। इनका यह प्यार अब नल्ला साबित हो रहा है क्योंकि ये प्रेमी जोड़ा अब तलाक की गुहार इस संस्था के पास लगा रहे है।
बता दें कि दक्षिण मुंबई की प्रसिद्ध संस्था `पब्लिक कंपलेंट सेंटर’ में इन दिनों मियां-बीवी की तकरार के मामलों की बाढ़ आ गई है। इनमें से अधिकांश तकरार के मामले उन विवाहित प्रेमी जोड़ों के हैं, जिनकी प्यार की शुरुआत वेलेंटाइन-डे पर हुई है। सेंटर के पैरोकार अब्दुल रज्जाक मणियार ने बताया कि हर माह उनके सेंटर पर दो से तीन विवाहित प्रेमी जोड़ों के मामले आते हैं, इसमें विवाहित प्रेमिका की शिकायत यह रहती है कि शादी से पहले प्रेमी उनकी हर मांगों को पूरी करता था। गिफ्ट से लेकर समय पर मिलना हर चीजें उनकी पूरी होती थी लेकिन शादी के बाद प्रेमी बना मियां उन पर कोई तवज्जो (ध्यान) नहीं देता। जबकि मियां की शिकायत रहती है कि प्रेमिका बनी उनकी बीवी ने शादी से पहले हर सुख-दुख में साथ देने का वादा किया था लेकिन शादी के बाद हर मामलों में तकरार कर रही है। मणियार ने बताया कि फिलहाल ऐसे तीन मामलों की सुनवाई चल रही है, जिसमें इन्होंने एक-दूसरे से अलग होने यानी तलाक देने की है। मणियार ने इस बात को भी माना कि वेलेंटाइन डे पर प्यार के इजहार के मामले बहुत कम ही सफल हो पाते हैं।