" /> कर्म पर भारी पड़ा धर्म : उपवास के बहाने बीमार बुजुर्ग को छोड़कर भागा एंबुलेंस चालक

कर्म पर भारी पड़ा धर्म : उपवास के बहाने बीमार बुजुर्ग को छोड़कर भागा एंबुलेंस चालक

कोरोना संक्रमित युवक को पैदल अस्पताल जाने की घटना की आग अभी थमी भी नहीं थी कि कल्याण-पूर्व में फिर से एक दिल को छूनेवाली घटना सामने आई है, जहां धर्म, कर्म पर भारी पड़ गया। 71 वर्षीय मरीज को लेना आया एंबुलेंस चालक अपना फर्ज भूल गया। बुजुर्ग मरीज चौथी मंजिल से उतर ही रहा था, उसी दौरान एंबुलेंस चालक उपवास का बहाना बनाकर मरीज को लिए बगैर एंबुलेंस लेकर वहां से चलता बना। इस घटना का वीडियो भी काफी वायरल हो रहा है।
घटना कल्याण-पूर्व के हनुमान नगर की है, जहां पर दो लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे तथा उनके घर में 71 वर्षीय माता-पिता भी कोरोना संदिग्ध थे, प्रशासन को फोन द्वारा सूचना देने पर इन्हें लेने के लिए एंबुलेंस आई। चौथी मंजिल पर रहने तथा दोनों बुजुर्गों को चलने में दिक्कत होने के के कारण उन्हें नीचे उतरने में वक्त लग गया। वह जब तक नीचे पहुंचा तब तक एंबुलेंस का ड्राइवर वहां से इंतजार चला गया था। इसके बाद मनपा ने इस संबंध में एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर यह बताया है कि एंबुलेंस ड्राइवर को उपवास तोड़ना था। साथ ही प्रत्यक्षदर्शियों ने वृद्धों को लाने में मनपा कर्मचारियों की कोई सहायता नहीं की। मनपा द्वारा यह भी कहा गया है कि कुछ देर बाद दूसरी एंबुलेंस को संशयित को लाने के लिए भेज दिया गया था।