" /> कहीं तेज तो कहीं धीरे चल, मुंबई के ११ सड़कों और फ्लाइओवर पर हुई स्पीड लिमिट पुनर्निर्धारित

कहीं तेज तो कहीं धीरे चल, मुंबई के ११ सड़कों और फ्लाइओवर पर हुई स्पीड लिमिट पुनर्निर्धारित

मुंबई के ११ बड़ी सड़कों और फ्लाइओवर्स से गुजरते समय अब आपको कहीं तेज तो कहीं धीरे चलना पड़ेगा। मुंबई ट्रैफिक पुलिस द्वारा शहर की ११ बड़ी सड़कों और फ्लाइओवर्स पर स्पीड लिमिट पुनर्निर्धारित की गई है, जिसमें कहीं पर लिमिट घटी है, तो कहीं पर पहले की तुलना में बढ़ गई है। इन ११ सड़कों में बांद्रा-वर्ली सी-लिंक, मरीन ड्राइव, वेस्टर्न-ईस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे, जेजे फ्लाइओवर, ईस्टर्न फ्रीवे और लालबाग फ्लाइओवर शामिल हैं।

बता दें कि मुंबई के ट्रैफिक को नियंत्रित करने के लिए ट्रैफिक पुलिस द्वारा ११ बड़े स्थानों पर स्पीड लिमिट पुनर्निर्धारित की है। इसमें मरीन ड्राइव पर स्पीड लिमिट ६० किमी प्रति घंटा से बढ़ाकर ६५ किमी. प्रति घंटा कर दी गई है, जबकि वेस्टर्न-ईस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर ये लिमिट घटाकर ८० किमी प्रति घंटा से ७० किमी प्रति घंटा कर दी गई है। इसके अलावा मोटर-वाहन चलानेवाले, बांद्रा-वर्ली सी-लिंक और ईस्टर्न प्रâीवे के घुमावदार रास्तों पर ३५-४५ किमी प्रति घंटा से ज्यादा स्पीड से गाड़ी नहीं चला सकते। इससे पहले ये लिमिट सड़कों की लिमिट के बराबर ही थी। मुंबई ट्रैफिक पुलिस विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि जब तक वाहन चालकों को लेजर स्पीड वैâमरा और ई-चालान वसूल कर बाधित नहीं किया जाता, जब तक वे नियमों का पालन नहीं करते हैं। उन्होंने बताया कि शहर के कुछ हिस्सों में ट्रैफिक ज्यादा रहता है इसलिए वहां स्पीड लिमिट कम करने की जरूरत है, जबकि कुछ हिस्सों में ट्रैफिक कम होने के कारण वहां लिमिट बढ़ा दी गई है। इसके अलावा पुलिस ने बताया कि अगले हफ्ते से पुलिस द्वारा लोगों को नई स्पीड लिमिट से अवगत कराने के लिए विभिन्न अभियान चलाए जाएंगे।