" /> कुंबले की कसक

कुंबले की कसक

खिलाड़ियो के बारे में बहुत सारी गॉसिप बाहर आती है जिसे लगभग झूठा मान लिया जाता है मगर ऐसा पूरी तरह नहीं होता क्योंकि हर गॉसिप में सच का थोड़ा सा नमक रहता है। और ये कभी कभी कुछ अवधि के बाद बाहर आकर दिखने लगता है। अब देखिए न अनिल कुंबले जब कोच बने और बाद में हटे तो खबरों में विराट कोहली से उनके मतभेद उजागर हुए किन्तु कुंबले ने स्वीकार नहीं किया और न विराट कोहली ने अपना मुंह खोला। अब इतने महीनों बाद अनिल कुंबले के मुख से ये दर्द निकल ही गया और उन्होंने साफ़ साफ़ कह दिया कि हां कोहली के कारण ही कोच पद से मैंने इस्तीफ़ा दिया था। साथ ही ये कसक भी रही कि वे बहुत अच्छा कर सकते थे मगर नहीं कर सके। पूर्व कप्तान अनिल कुंबले को हिंदुस्थानी क्रिकेट टीम में मुख्य कोच के तौर पर अपने कार्यकाल से कोई पछतावा नहीं है, लेकिन उनका कहना है कि इसका अंत बेहतर हो सकता था। कप्तान विराट कोहली से मतभेद के कारण २०१७ में चैम्पियंस ट्रॉफी के बाद कुंबले इस पद से हट गए थे। पूर्व स्पिनर ने ऑनलाइन सत्र में जिम्बाब्वे के पूर्व क्रिकेटर पॉमी मबांग्वा से कहा, ‘हमने उस एक साल के समय में काफी अच्छा किया था। मैं सचमुच काफी खुश था कि इसमें कुछ योगदान किए गए थे और इसमें कोई पछतावा नहीं है। मैं वहां से भी आगे बढ़कर खुश था। उन्होंने कहा, ‘मैं जानता हूं कि अंत बेहतर हो सकता था, लेकिन फिर भी ठीक है। कोच के तौर पर आप महसूस करते हो कि आगे बढ़ने का समय कब है, कोच ही होता है जिसे आगे बढ़ने की जरूरत होती है। मैं सचमुच काफी खुश था, मैंने उस एक साल में काफी अहम भूमिका निभाई थी।’