" /> कोरोना पीड़ित लोगों को 15 दिनों के लिए देंगे ऑक्सीजन सिलिंडर मुफ्त : नोबल फाउंडेशन का नेक प्रयास

कोरोना पीड़ित लोगों को 15 दिनों के लिए देंगे ऑक्सीजन सिलिंडर मुफ्त : नोबल फाउंडेशन का नेक प्रयास

मीरा-भाइंदर शहर में कोरोना से पीड़ित लोगों को ऑक्सीजन सिलिंडर मुफ्त में देने का बीड़ा नोबेल फाउंडेशन ने उठाया है। सिलिंडर 15 दिनों के लिए मुफ्त दिया जाएगा। सिलिंडर लेनेवाले लोगों को एक निश्चित राशि बतौर डिपॉजिट देनी होगी, जिसे सिलेंडर लौटाने के बाद वापस कर दिया जाएगा।
मीरा-भाइंदर शहर में भी कोरोना बीमारी से लोग पीड़ित हैं। हालांकि राज्य सरकार के साथ मनपा प्रसाशन इसकी रोकथाम के लिए मुस्तैदी से काम कर रही है। वहीं कुछ स्वयंसेवी संस्थाएं भी अपने-अपने तरीके से प्रभावित लोगों की मदद कर रही हैं। इसी कड़ी में भाइंदर स्थित अल्युमिनियम से निर्मित ऑक्सीजन सिलिंडर निर्माता विजय पारिख ने भी कोरोना से ग्रस्त लोगों के मदद की ठानी है। सिलिंडर निर्माता ने नोबेल फॉउंडेशन के माध्यम से कोरोना पीड़ित लोगों को 15 दिनों के लिए मुफ्त ऑक्सीजन सिलिंडर देने की बात कही है। इसके तहत जरूरतमंद लोगों को 7,500 रुपया डिपॉजिट देना होगा, जो लोग 15 दिनों के बाद सिलिंडर सही-सलामत वापस कर देंगे, उनकी डिपॉजिट राशि वापस कर दी जाएगी। अगर सिलिंडर में किसी प्रकार का नुकसान हुआ, जैसे वाल्व का नुकसान होने पर 800 रुपए और रेग्युलेटर का नुकसान होने पर 1,500 रुपए डिपॉजिट से काट लिया जाएगा। सिलिंडर लेने के लिए लोगों को कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट कॉपी, सिलिंडर की जरूरत संबंधित डॉक्टर का पत्र और आधार कार्ड का कॉपी जमा कराना होगा। प्रथम बार ऑक्सीजन सिलिंडर 15 दिनों के लिए मुफ्त दिया जाएगा, जबकि दूसरी बार जरूरत पड़ने पर 250 रुपए ऑक्सीजन भरने का चार्ज लिया जाएगा। जरूरतमंद लोग सिलिंडर को एल्कन एक्पोर्ट कंपनी, शीतल इंडस्ट्रियल स्टेट, फाटक रोड, भाइंदर (पूर्व) से प्राप्त कर सकते हैं। इस मामले में डॉ. राजीव अग्रवाल का कहना है कि ये एक सराहनीय कदम है। सिलिंडर का लाभ ऐसे कोरोना पीड़ित लोगों को जरूर मिलेगा जो घर पर हैं और उनको आक्सीजन की जरूरत है।