" /> कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मनपा को मिला एक और अस्पताल

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए मनपा को मिला एक और अस्पताल

– मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में एमएमआरडीए ने किया सुपुर्द
– देश का सबसे बड़ा ओपन अस्पताल
सेमी क्रिटिकल कोरोना पॉजिटिव रोगियों के इलाज के लिए मनपा को एक और अस्पताल मिल गया है। देश का सबसे बड़ा एक हजार बेड का यह ओपन अस्पताल बांद्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स के एमएमआरडीए मैदान में बनाया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की उपस्थिति में कल इस अस्पताल को एमएमआरडीए ने मनपा को सुपुर्द किया। इस दौरान उपमुख्यमंत्री अजीत पवार, पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे, राजस्व मंत्री बालासाहेब थोरात,नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे भी उपस्थित थे। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने एमएमआरडीए आयुक्त आर. के. राजीव से उक्त अस्पताल का हस्तांतरण स्वीकारा।
गौरतलब है कि मुंबई में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 20 हजार के पार पहुंच गई है। रोज लगभग 500 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एमएमआरडीए से अनुरोध किया था कि कोरोना तैयारियों के तहत एक अस्पताल बनाया जाए। इसके बाद एमएमआरडीए ने बीकेसी मैदान में 1026 बिस्तरों वाला अस्पताल तैयार कर दिया है। 15 दिनों में बने इस अस्पताल के निर्माण पर करीब 20 करोड़ रुपए खर्च किए गए है।।

अस्पताल की विशेषता

1026 बिस्तरों वाले इस अस्पताल में 504 बेड ऑक्सिजन सुविधा से उपलब्ध है। इन बेड को 18 वार्डों में विभाजित किया गया है। हर वार्ड में 28 बेड होंगे। शेष 522 बेड को 9 वार्डों में विभाजित किया गया है। हर वार्ड में 58 बेड होंगे। इसके साथ ही 10 मोबाइल आइसीयू बेड भी अस्पताल में होंगे। फिलहाल यहां 13 डॉक्टर, 8 नर्स, 14 वार्ड बॉय की नियुक्ति की गई है। आवश्यकतानुसार और नियुक्ति यहां की जाएगी। लैब, एक्स-रे मशीन और ईसीजी की भी सुविधा उपलब्ध की गई है।

मरीजों के लिए व्यवस्था
मरीजों को सुबह के नाश्ते से लेकर रात का भोजन तक दिया जाएगा। स्वच्छता गृह, स्नान गृह की भी सुविधा यहां उपलब्ध है। अस्पताल में नियुक्त डॉक्टरों के लिए भी स्वतंत्र व्यवस्था की गई है।