" /> कोरोना वायरस के खिलाफ 53 साल का पेशेंट जंग हारा : प्लाज्मा थेरेपी से नहीं मिली मदद

कोरोना वायरस के खिलाफ 53 साल का पेशेंट जंग हारा : प्लाज्मा थेरेपी से नहीं मिली मदद

महाराष्‍ट्र में 53 साल के कोरोना मरीज का इलाज प्लाज्मा थेरेपी से किया गया था, जिसकी 29 अप्रैल को मौत हो गई। यह महाराष्‍ट्र का ऐसा पहला पेशेंट था, जिसका प्लाज्मा थेरेपी से इलाज किया गया था।
कोरोना वायरस के देश में केसों की संख्‍या 35 हजार के पार पहुंच गई है। देश सहित पूरा विश्‍व इस समय कोरोना वायरस की महामारी का सामना कर रहा है। कोरोना वायरस के केसों की संख्‍या देश में 35 हजार के पार पहुंच गई है। कोरोना से सबसे ज्‍यादा प्रभावित महाराष्‍ट्र राज्‍य है, जहां कोरोना प्रभावितों की संख्‍या का आंकड़ा 10 हजार के पार पहुंच गया है। महाराष्‍ट्र की राजधानी मुंबई में इस वायरस के प्रभावितों की संख्‍या अच्‍छी-खासी है। मुंबई के ‘लीलावती’ अस्‍पताल के सीईओ डॉ. रविशंकर ने बताया कि महाराष्‍ट्र के एक 53 साल के कोरोना पेशेंट का इलाज प्लाज्मा थेरेपी से किया गया था, जिसकी 29 अप्रैल को मौत हो गई। ये महाराष्‍ट्र का ऐसा पहला पेशेंट था जिसका प्लाज्मा थेरेपी से इलाज किया जा रहा था। कोरोना मरीजों का प्लाज्मा थेरेपी से इलाज के कुछ अच्‍छे परिणाम दिल्‍ली में आए थे। कोरोना वायरस की महामारी के कारण देश में जारी लॉकडाउन के बावजूद संक्रमितों का आंकड़ा 35 हजार पार कर गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 35,043 हो गई है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 1,993 नए मामले सामने आए हैं और 73 लोगों की मौत हुई है। वहीं, देश में कोरोना से अब तक 1,147 लोगों की मौत हो चुकी है।