" /> कोरोना वायरस के चलते वृहद एडवाइजरी जारी

कोरोना वायरस के चलते वृहद एडवाइजरी जारी

कोरोना वायरस से बचाव की तैयारियों के संबंध में मुख्य सचिव सुधि रंजन मोहंती की अध्यक्षता में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की गई। जिसमें समस्त संभागों के संभाग आयुक्त,समस्त जिलों के कलेक्टर, आईजी डीआईजी ,एसपी, स्वास्थ्य , शिक्षा आदि विभागों के अधिकारी शामिल हुए।

ज्ञातव्य है कि, वर्तमान स्थिति में 59 देश कोरोना वायरस से प्रभावित हो चुके हैं। मध्यप्रदेश में कुल 66 एवं इंदौर में 15 ऐसे व्यक्तियों की पहचान हुई है जिन्हें सस्पेक्टेड पेशेंट लिस्ट अर्थात ऐसे व्यक्ति जो कोरोना वायरस से इनफेक्टेड हो सकते हैं ,उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि, मध्यप्रदेश में इन 59 देशों से आने वाले कुल पैसेंजर्स की संख्या 420 पाई गई है। 10 फरवरी 2020 के बाद से साउथ कोरिया , ईरान एवं इटली से आए हुए पैसेंजर्स को भी होम आइसोलेशन में रखा गया है।

कोरोना वायरस की जांच करने के लिए देश में 12 टेस्टिंग लेबोरेटरी कार्य कर रहीं हैं। मध्य प्रदेश के लिए एन.आइ.वी. पुणे रेफरेंस लैबोरेट्री के तौर पर कार्य कर रही है।

मुख्य सचिव ने सभी जिलों में एपीडोमोलॉजिस्ट की उपस्थिति की जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि स्वास्थ्य विभाग,एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, शिक्षा विभाग सभी सचेत एवं क्रियाशील और तैयार रहें।

उन्होंने बताया कि, संदिग्ध मरीजों को पृथक लाइन एवं पृथक बोर्ड मैं रखा जाए एवं उनसे कम से कम 6 फीट की दूरी रखी जाए। जिससे यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में न फैले एवं इसकी रोकथाम सुनिश्चित की जा सके।

उन्होंने जानकारी दी कि, समस्त एयरपोर्ट्स एवं पर्यटन स्थानों पर आने वाले व्यक्तियों की स्क्रीनिंग की जा रही है एवं संदिग्ध मरीजों को होम आइसोलेशन अथवा अन्य किसी पृथक स्थान पर रखा जा रहा है।

उन्होंने निर्देश दिए कि सभी कार्यालयों एवं सार्वजनिक स्थानों पर डिसइनफेक्टेंट्स अथवा निस्संक्रामक की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए।

104 हेल्पलाइन नंबर से ले सकते हैं मदद

करोना वायरस से बचाव एवं उससे संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी अथवा सहायता के लिए 104 हेल्पलाइन नंबर से मदद ली जा सकती है यह नंबर भोपाल से ऑपरेट हो रहा है। इसके अतिरिक्त हर जिले में एक रैपिड रिस्पांस टीम भी बनाई गई है।

इस अवसर पर इंदौर संभाग से संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी, जिला कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव , डीआईजी श्रीमती रुचि वर्धन मिश्र, एसपी श्री मोहम्मद यूसुफ कुरैशी ,सीईओ जिला पंचायत श्रीमती नेहा मीणा , एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डीन डॉक्टर ज्योति बिंदल आदि उपस्थित थे।