" /> कोरोना संकट में राहुल गांधी को याद आए अमेठीवासी,  जरूरतमंदों के लिए भेजा ५-५ ट्रक चावल-आटा व दाल आदि

कोरोना संकट में राहुल गांधी को याद आए अमेठीवासी,  जरूरतमंदों के लिए भेजा ५-५ ट्रक चावल-आटा व दाल आदि

कोरोना संकट में राहुल गांधी को अमेठीवासियों की याद आई है। करीब डेढ़ दशक तक अमेठी का प्रतिनिधित्व करने वाले गांधी परिवार के चश्मोचिराग ने करीब १० ट्रक अनाज व खाद्य सामग्री क्षेत्र के जरूरतमंदों के लिए भेजवाई है। जिनके वितरण की जिम्मेदारी क्षेत्र के कांग्रेसियों को सौंपी गई है।

अमेठी के कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सिंह ने बताया कि राहुल गांधी की मंशा है कि अमेठी के हर जरूरतमंद के पास राहत पहुचनी चाहिए चाहे वह अमेठी का हो या बाहर का। संसदीय क्षेत्र के ८७७ ग्राम व ७ नगर पंचायत/नगर पालिका में आज तक १६४०० राशन किट वितरित की गयी है। १२९०० लोगों को लंच पैकेट भी पहुंचाया जा चुका है। साथ ही कोरोना से बचाव के लिए ५०००० मास्क, २०००० सेनीटाइजर,२०००० साबुन भी बांटा जा चुका है। राहुल ने ५ ट्रक चावल, ५ ट्रक आटा, १ ट्रक दाल ,तेल व अन्य राहत सामग्री भेजते हुए कहा है कि और जो जरूरत होगी उसे अमेठी भेजा जायेगा। कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रदीप सिंघल के मुताबिक, राहुल गांधी एंव प्रियंका वाड्रा लगातार अमेठी के संपर्क में हैं और आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये जा रहे हैं। बता दें कि, राहुल गांधी १५ साल तक अमेठी के सांसद रहे पर २०१९ के चुनाव में उन्हें केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के समक्ष हार का मुंह देखना पड़ा। राहुल इस समय वायनाड से सांसद हैं।