" /> कोरोना से लोगों को बचाने के लिए सड़क पर उतरे ‘यमराज’ : लॉकडाउन का पढ़ाया पाठ

कोरोना से लोगों को बचाने के लिए सड़क पर उतरे ‘यमराज’ : लॉकडाउन का पढ़ाया पाठ

आगरा में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसके बावजूद कुछ लोग बेवजह घर से बाहर निकलकर अपने और दूसरों के लिए खतरा बन रहे हैं। ऐसे में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए पुलिस सख्ती बरत रही है, तो ‘यमराज’ को भी सड़कों पर उतरना पड़ा है। शुक्रवार को एक युवक ने यमराज का वेश बनाकर कोरोना के खतरे से लोगों को आगाह किया।
पुलिस और प्रशासन के साथ शहर के जागरूक लोग भी कोरोना के खतरे से लोगों को आगाह करने के लिए प्रयासरत हैं। शुक्रवार को एक युवक ने यमराज का वेश बनाकर शहर के विभिन्न इलाकों में घूमकर लोगों को को बताया कि वो घरों से रहेंगे तो सुरक्षित रहेंगे। बेवजह बाहर निकलने पर उन्हें यमराज मिल सकता है। लॉकडाउन के बावजूद सड़कों पर लोगों की आवाजाही बढ़ रही है। लोग वाहनों से भी निकलने लगे हैं। पुलिस के पकड़ने पर लोग तरह-तरह के बहाने बना रहे हैं। कोई कूलर की घास लेने जाने की बात कह रहा है तो कोई अंडे खरीदने की। पुलिस ने शुक्रवार को लॉकडाउन का उल्लंघन करनेवाले कई लोगों पर कार्रवाई की। शाह मार्केट के एक व्यापारी अपनी कार से जा रहे थे। उनकी कार पर काली फिल्म भी चढ़ी थी। व्यापारी ने मास्क और सीट बेल्ट भी नहीं लगाई थी। पुलिस ने रोका तो व्यापारी ने बताया कि अंडे खरीदने निकले हैं। पुलिस ने कहा कि जब दुकानें ही नहीं खुल रही हैं तो अंडे कहां से लाएंगे। इसका उनके पास कोई जवाब नहीं था। पुलिस ने व्यापारी का 2500 रुपए का चालान काट दिया। सर्विलांस सेल हॉटस्पॉट वाले कई इलाकों के लोगों पर नजर रखी रही है। पिछले दिनों एक व्यक्ति ने एक घंटे में कई लोगों को फोन मिलाया। सभी से शराब के बारे में कहा। एक दोस्त ने लेने के लिए बोल दिया। सूचना पर रास्ते में ही उसे पकड़ लिया गया। कार का चालान कर दिया गया। एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर पुलिस अभी तक 17,000 से अधिक वाहनों का चालान काट चुकी है। पुलिस द्वारा लॉकडाउन में ही नौ लाख रुपए का शमन शुल्क वसूला जा चुका है।