" /> कोरोना है ‘एटम बम’!

कोरोना है ‘एटम बम’!

कोरोना प्रकृति की शक्ति का नमूना है।
कोरोना से विश्व के बलशाली नेता और प्रजा भयभीत है।
कोरोना से सीखना है हमसे ताकतवर प्रकृति है, न कि हम मनुष्य।
कोरोना ने याद दिलाया है कि हे मानव अब भी चेत जा और
अहंकार को त्यागकर मानवीय रिश्तों को सुधार ले।
कोरोना विश्वव्यापी महामारी बन चुका है।
कोरोना वायरस से सुरक्षा हो हमारी, ऐसी ईश्वर से सतत प्रार्थना हो।
कोरोना एक ऐसा अदृश्य जंतु का फैलाव है
जिसे दूरबीन से भी नहीं देखा जा सकता।
कोरोना से भयभीत न होकर सुरक्षा के इंतजाम करना है।
कोरोना से यह सुंदर पंक्ति भी याद आ रही है
हे प्रभु तेरी निराली शान है,
आंखवालों को तेरी पहचान है।
कोरोना, स्वाइन फ्लू व अन्य बीमारियों का
हमारे सुंदर, स्वच्छ भारत में आयात होता है
यह हमारा दुर्भाग्य है प्रभु, इसे पार लगाए हमें।
-सुधीर आर.अग्रवाल, कुंभारवाड़ा