" /> कोरोना हॉस्पिटल का डॉक्टर हुआ कोरोना से संक्रमित

कोरोना हॉस्पिटल का डॉक्टर हुआ कोरोना से संक्रमित

भिवंडी शहर में मिले दो नए कोरोना संक्रमित
कुल संख्या हुई 33
भिवंडी शहर स्थित आईजीएम उप जिला सरकारी अस्पताल को कोरोना अस्पताल बनाया गया है, जिसमें कार्यरत एक डॉक्टर कोरोना रोग से संक्रमित पाया गया। इसी तरह हनुमान टेकड़ी क्षेत्र में मुलुंड से आई एक महिला व अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर को कोरोना संक्रमित पाया गया है।
भिवंडी मनपा से मिली जानकारी के अनुसार, मुलुंड से महिला भिवंडी स्थित हनुमान टेकड़ी परिसर में आई थी। सूचना मिलने के बाद स्वास्थ्यकर्मियों ने महिला की आईजीएम अस्पताल स्थित स्वैब कैब मशीन में जांच की। जांच किए जाने के उपरांत महिला को कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर उपचार हेतु स्पेशल कोरोना अस्पताल में एडमिट किया गया है। इसी तरह उपचार हेतु भर्ती कराए गए आईजीएम अस्पताल में कार्यरत मुंबई निवासी डॉक्टर भी जांच के उपरांत कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया है। स्पेशल कोरोना अस्पताल के डॉक्टर को कोरोना संक्रमित पाए जाने से अस्पताल स्टाफ कर्मियों में खलबली मची है।
आईजीएम अस्पताल के सीएमओ डॉ. अनिल थोरात द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, आईजीएम अस्पताल में सेवारत डॉक्टर मुंबई निवासी हैं, जो कभी-कभार मुंबई स्थित घर आते-जाते हैं। मुंबई आने-जाने के दौरान ही डॉक्टर की हालत बिगड़ने पर उनकी जांच कराई गई। तदुपरांत उनके कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिली है। कोरोना संक्रमण का मामला संज्ञान में आते ही संक्रमित डॉक्टर के संपर्क में आनेवाले 8 अस्पताल कर्मियों ने स्वास्थ्य सुरक्षा की खातिर सावधानी बरतते हुए खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है।

आईजीएम अस्पताल के सीएमओ डॉ. थोरात भी हुए होम क्वारंटाइन
कोरोना संक्रमित डॉक्टर अस्पताल के सीएमओ डॉ. अनिल थोरात का बेहद करीबी होने की वजह से सीएमओ डॉ. थोरात भी स्वास्थ्य सुरक्षा के मद्देनजर होम क्वारंटाइन हो चुके हैं। इस तरह मनपा जनसंपर्क अधिकारी मिलिंद पलसुले के अनुसार अब तक भिवंडी शहर में मिले कुल कोरोना मरीजों की संख्या 33 हो गई है, जिसमें से 10 मरीज ठीक होकर वापस घर आ चुके हैं। एक मरीज की मृत्यु हो चुकी है। इसके अलावा 22 कोरोना मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। भिवंडी शहर के नजदीक टाटा आमंत्र क्वारंटाइन में कुल 469 लोगों को रखा गया है और होम क्वारंटाइन में 293 लोगों को रखा गया है।