क्रिकेट वीरांगनाओं की धूम!

आईपीएल का ११वां संस्करण समापन की ओर है किंतु रुकिए अभी आईपीएल की धूम खत्म नहीं हुई है और न ही क्रिकेट प्रेमियों को अगले वर्ष तक का इंतजार करना होगा बल्कि अभी तो धूम शुरू हुई है क्योंकि पुरुषों के आईपीएल के बाद महिला आईपीएल की एक शुरुआत होनेवाली है। इसके लिए लगभग सारी तैयारियां पूर्ण हो चुकी हैं और क्रिकेट खिलाड़ी महिलाओं की खरीद फरोख्त के लिए भी सोचा समझा जाने लगा है। इसके पूर्व महिला आईपीएल क्या रंग दिखा सकता है उसका जायजा लिया जा रहा है और इस जायजा में एक मैच रखा गया है, जिससे तय होगा कि क्या महिला आईपीएल का भी कोई भविष्य है? क्या वो भी पुरुषों की तरह रोमांच बिखेर सकता है।
महिला विश्वकप में फाइनल की सैर कर आई टीम इंडिया के कारण देश में महिला क्रिकेट को भी पंख मिले हैं। उसकी कुछ खिलाड़ी लोकप्रिय भी हुई हैं और उनको मैदान पर खेलता देखना भी लोग चाहते हैं। यही वजह है कि महिला क्रिकेट को अब और ऊंची उड़ान भरने के लिए बीसीसीआई कोशिश में लगा है। बोर्ड की ये पहल निश्चित रूप से महिला क्रिकेट के लिए बहुत बड़ा प्लेटफॉर्म मानी जाएगी। जिस पर पैर रखकर महिलाएं क्रिकेट दुनिया में अच्छी तरह से छलांग लगा सकती हैं। वैसे भी विश्व में महिला क्रिकेट अब देखा जाने लगा है और हिंदुस्थान की यदि बात की जाए तो यहां महिला आयकॉन भी बन चुकी हैं। लोगों की जुबान पर कुछ ऐसे नाम हैं, जो किसी भी क्रिकेट खिलाड़ी की लोकप्रियता से कम नहीं हैं। इन्हीं सारी स्थितियों को देखते हुए ही ये पैâसला लिया गया है कि महिला आईपीएल भी हो ताकि महिला खिलाड़ियों के साथ-साथ हिंदुस्थानी क्रिकेट को भी आसमान मिले। लिहाजा इस टूर्नामेंट के पूर्व एक प्रदर्शन मैच रखा गया है, जो महिला आईपीएल के बिल्ड अप रूप में है। यानी ये मैच ही वो नींव होगी, जिस पर महिला आईपीएल की इमारत खड़ी की जानी है।
इसके लिए भारतीय महिला क्रिकेटर स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर को चुना गया है, जो टी-२० चैलेंज गेम में दोनों टीमों का नेतृत्व करती नजर आएंगी। बीसीसीआई ने इसकी घोषणा पिछले दिनों १५ मई को की। यह मैच २२ मई को वानखेड़े में आईपीएल २०१८ के पहले क्वालीफायर मैच से पहले खेला जाएगा। माना जा रहा है कि यह मैच आईपीएल के नियमों पर आधारित होगा। इसे महिला आईपीएल के बिल्ड-अप के रूप में देखा जा रहा है। बीसीसीआई और आईपीएल टीम के बीच यह मुकाबला २२ मई को दोपहर २ बजे शुरू होगा। पुरुष आईपीएल के पहले क्वालीफायर मैच से पहले यह मुकाबला खेला जाएगा। इस मुकाबले में भी वही नियम होंगे, जो मौजूदा आईपीएल में हैं। दोनों टीम की कमान हिंदुस्थानी महिला खिलाड़ियों के हाथों में होगी। एक टीम का नेतृत्व स्मृति मंधाना करेंगी तो वहीं दूसरी टीम का नेतृत्व हरमनप्रीत कौर करेंगी। खबरों की मानें तो यह मैच स्टार इंडिया प्रसारित कर सकती है। महिला टी-२० मैच का प्रसारण समेत दुनिया भर में किया जाएगा। इसकी जानकारी बीसीसीआई द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने दी है। उन्होंने कहा है कि पिछले कुछ हफ्तों में महिला क्रिकेटरों के लिए आईपीएल की तरह एक संरचना को स्थापित करने के प्रयास किए जा रहे हैं। हम कई बोर्डों से बातचीत कर रहे थे और मैं परिणाम से खुश हूं।
बहरहाल, इस चैलेंज मैच में हिंदुस्थानी खिलाड़ियों समेत कई विदेशी खिलाड़ी भी शामिल होंगी। माना जा रहा है कि इस मैच में न्यूजीलैंड की सूजी बेट्स और सोफी डेवन, ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटर एलिस पेरी, एलिसा हेली, मेगन शर्ट और बेथ मूनी के अलावा इंग्लैंड की डेनियल व्याट और डैनियल हेचल शामिल होंगी। वहीं मिताली राज, झूलन गोस्वामी, हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और वेद कृष्णमूर्ति को विदेशी सितारों के साथ खेलने का ये एक अनूठा अनुभव होगा और कुछ ऐसा है, जिसे हमने हिंदुस्थान में नहीं देखा है। बता दें कि बीसीसीआई अगले दो-तीन साल के भीतर पुरुष आईपीएल की तर्ज में महिला आईपीएल को आयोजित करने में लगा हुआ है। इस मैच को एक प्रदर्शनी के तौर पर देखा जा रहा है।
अब देखना सचमुच दिलचस्प होगा कि क्या ये मैच भी पुरुषों की तरह पेâमस होगा? हालांकि इसके लिए बोर्ड कमर कस चुका है। पर्याप्त प्रचार ही इस मैच के प्रति लोगों को आकर्षित करेगा। इसके लिए भी बोर्ड ने काफी काम किए हैं। चूंकि पुरुष आईपीएल के मध्य ही ये एकमात्र मैच रखा गया है तो इसका अपना लुत्फ भी होगा और क्रिकेटप्रेमी इसके प्रति भी दौड़े चले आएंगे और यही मैच तय करेगा कि महिला आईपीएल का भविष्य क्या हो सकता है?