" /> खाकी पर कोरोना ग्रहण!

खाकी पर कोरोना ग्रहण!

मुंबई में 656 तो उत्तर मुंबई में 30 पुलिस वाले संक्रमित
मालवणी के पांच पुलिस वाले भी किए गए क्वारंटीन

कोरोना योद्धाओं में शामिल पुलिस बल को लॉकडाउन के दौरान नागरिकों को कानून – व्यवस्था का सुचारु रूप से पालन कराने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। काम के प्रति अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए पुलिस अधिकारी एवं जवान कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं। मुंबई पुलिस द्वारा जारी किए गए आंकड़े के अनुसार 17 मई तक 651पुलिसकर्मी कोरोना से संक्रमित हुए थे। मालवणी पुलिस स्टेशन के पांच नए मामलों को जोड़ दें तो यह आंकड़ा 656 तक पहुंचा है। उत्तर मुंबई के ज़ोन 11 तथा 12 के 16 पुलिस स्टेशनों में अब तक 30 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।
बता दें कि मुंबई पुलिस की जिम्मेदारी इन दिनों बढ़ी हुई है। लॉकडाउन के दौरान कानून- व्यवस्था को ठीक रखने के साथ ही मुंबई से देश के अन्य प्रांतो में जाने वाले मजदूरों के फॉर्म भरवाने तथा एकत्र करने से लेकर रेलवे स्टेशन तक ले जा कर उनके गांव जाने वाली ट्रेनों में खाने-पीने की व्यवस्था के साथ बैठाने तक की जिम्मेदारी पुलिस पर आन पड़ी है। ऐसे में पुलिस वालों के सुरक्षा कवच को कोरोना कब भेद जा रहा है यह उसके लक्षण आने और जांच कराने के बाद ही पता चल पा रहा है।
बात उत्तर मुंबई की करें तो जोन 11 के मालवणी पुलिस स्टेशन के दो पीएसआई सहित तीन कांस्टेबल कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से एक पीएसआई को गांव जाने के इच्छुक मजदूरों से भरा हुआ फॉर्म लेकर जमा करना था तो दुसरे पीएसआई को उन्हें ट्रेन में बिठाने के लिए पहले मैदान में जमा करना, बस में बैठाना और फिर रेलवे स्टेशन पर एकत्र कर ट्रेन में उन्हें व्यवस्थित बैठाने की जिम्मेदारी दी गई थी। तीन पुलिस कांस्टेबल भी उन्हीं के साथ कार्यरत थे। इन पांचों को अलग अलग जगहों पर क्वारंटीन किए जाने की जानकारी मालवणी पुलिस स्टेशन से प्राप्त हुई है । इसी प्रकार जोन 11 के गोरेगांव पुलिस स्टेशन के दो, मालाड में एक, बांगुर नगर में तीन, कांदिवली में तीन, बोरीवली में तीन सहित कुल 17 पुलिस अधिकारी व कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए हैं। इसी प्रकार जोन 12 के वनराई पुलिस स्टेशन में एक, आरे में 3, दिंडोशी में 1,कुरार में एक, समता नगर में पांच तथा कस्तुरबा पुलिस स्टेशन में 2 यानी कुल 13 पुलिस वाले कोरोना से बाधित हुए हैं। संक्रमित होने वालों में एक सहायक पुलिस आयुक्त का भी समावेश है। उत्तर मुंबई के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त दिलीप सावंत का कहना है कि कोरोना से बचाव के लिए सभी पुलिस वाले सुरक्षा को लेकर सभी एहतियात बरत रहे हैं। उन्हें मास्क, हैंड ग्लोव्ज, सेनेटाइजर सभी चीजें पर्याप्त मात्रा में दी गई है। उनका मानना है किपुलिस वाले सबसे ज्यादा आम लोगों के संपर्क में रहते हैं। अनजाने में किसी कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से हमारे जवान संक्रमित हुए है। साथ ही उन्होने विश्वास जताया कि यह सभी जल्दी ही ठीक होकर फिर पूरी मुस्तैदी से अपने कर्तव्यों का निर्वहन करेंगे।