" /> गंभीर रोगों से ग्रसित वृद्धा ने दी कोरोना को मात

गंभीर रोगों से ग्रसित वृद्धा ने दी कोरोना को मात

कोरोना वायरस की महामारी का खतरा ऐसे लोगों में ज्यादा है जो वृद्ध हो चुके हैं और जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है। ऐसे में विलेपार्ले की एक 80 वर्षीय महिला ने कोरोना को मात देकर कई लोगों के मन में उम्मीद की किरणें जगा दी हैं। 80 वर्षीय ये वृद्ध महिला अस्थमा, हाई ब्लडप्रेशर, ब्रेस्ट सर्जरी और नी ट्रांसप्लांट जैसी कई चुनौतियों से गुजर चुकी है। महिला ने वायरस को हराने का श्रेय चेंबूर स्थित एसआरवी अस्पताल और अपनी आत्मशक्ति को दिया है।
बता दें कि विलेपार्ले में रहनेवाली इस वृद्ध महिला की तबीयत 3 जून के आसपास खराब होने लगी, जिसके बाद उसे चेंबूर स्थित एसआरवी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जब महिला की जांच कराई गई तो रिपोर्ट में कोरोना पॉजिटिव आया लेकिन रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद भी महिला ने हार नहीं मानी और अपना आत्मविश्वास बनाए रखा। एसआरवी अस्पताल स्थित डॉ. स्वरूप हेगड़े ने महिला की विशेष देखभाल की। कुछ दिनों बाद जब महिला की दोबारा जांच की गई तो रिपोर्ट कोरोना नेगेटिव आई। इसके बाद महिला को डिस्चार्ज कर 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रखा गया है।