चालक की लापरवाही परिवार तबाह, सड़क दुर्घटना में बेटी अनाथ और पत्नी हुई विधवा

वाड़ा-विक्रमगढ़ मार्ग पर कार दुर्घटना में पिता समेत एक आठ माह की बच्ची की मौत हो गई। जबकि कार में सवार दो महिलाओं समेत दूसरी बच्ची गंभीर रूप से घायल है। हादसा बुधवार को सजन गांव के पास एक कंटेनरवाले की लापरवाही के कारण हुआ। इस भीषण हादसे के बाद स्थानीय पुलिस ने शवों को कब्जे लेकर गंभीर रूप से घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती करा दिया। एक टैंकर चालक की लापरवाही के कारण एक परिवार तबाह हो गया। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार को पालघर जिले के विक्रमगढ़ का रहनेवाला कल्पेश (३०) अपनी मां प्रभावती (५५), पत्नी काव्या (२५), प्राची (२) और आठ माह की दुधमुंही बच्ची को एमएच ०२ बीजी ९५९६ स्विफ्ट कार से दवा लेने के लिए पाली मस्तान नाका को निकला था। वाड़ा-विक्रमगढ़ मार्ग पर कार तेजी से फर्राटा भरते हुए आगे बढ़ रही थी कि अचानक उल्टी दिशा से सामने आ रहे कंटेनर को देखकर कल्पेश का संतुलन बिगड़ा और गाड़ी सड़क किनारे एक पेड़ से जा टकराई। तेज रफ्तार के कारण टक्कर इतनी जोरदार थी कि घटनास्थल पर ही कल्पेश और उसकी दुधमुंही आठ महीने की बच्ची ने दम तोड़ दिया। जबकि मां, पत्नी और दो साल की प्राची गंभीर रूप से घायल हो गई। इस दर्दनाक हादसे में जहां एक ओर घर का चिराग बुझ गया वहीं एक बेटी अनाथ तो पत्नी विधवा हो गई। घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को मिली। जानकारी मिलते ही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस दोनों शवों को हिरासत में लेकर घायलों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया। पत्नी की हालत नाजुक बताई जा रही है। फिलहाल मामले की जांच पुलिस कर रही है।