" /> चीन पर आग बबूला हुए ब्रिटिश सांसद, चीनी बर्ताव की निंदा की

चीन पर आग बबूला हुए ब्रिटिश सांसद, चीनी बर्ताव की निंदा की

हिंदुस्थान के साथ चल रहे सीमा विवाद पर चीन की धमकी भरे बर्ताव की ब्रिटिश सांसदों ने कड़ी निंदा की और संसद में इसको लेकर चिंता जताई। इसके साथ ही सांसदों ने चीन पर ब्रिटेन की निर्भरता की समीक्षा किए जाने का भी आग्रह किया। सोमवार शाम हाउस
ऑफ कॉमन्स में कंजर्वेटिव पार्टी के सांसद इयान डंकन स्मिथ ने शिनजियांग प्रांत में उइगर अल्पसंख्यक समुदाय के साथ चीनी सरकार के दु‌र्व्यवहार का भी मुद्दा उठाया।

चीन पर जमकर हमला बोला
इयान डंकन स्मिथ ने मानवाधिकारों पर चीनी सरकार के भयावह रिकॉर्ड, हांगकांग में स्वतंत्रता पर हमला, दक्षिण चीन सागर से हिंदुस्थान तक के सीमा विवादों में उसके धमकी भरे व्यवहार, मुक्त बाजार को संचालित करने वाले नियमों के उल्लंघन व कोविड-१९ की देर से घोषणा आदि को लेकर चीन पर जमकर हमला बोला और पूछा कि क्या सरकार अब चीन पर ब्रिटेन की निर्भरता की आंतरिक समीक्षा शुरू करेगी।

चिंताओं को चीन के समक्ष उठाती रही है सरकार
एशिया मामलों के ब्रिटिश मंत्री निगेल एडम्स ने कहा कि ब्रिटेन सरकार विभिन्न मुद्दों पर अपनी चिंताओं को नियमित रूप से चीन के समक्ष उठाती रही है। विपक्षी लेबर पार्टी के सांसद स्टीफन किन्नॉक ने भी अपने लोगों और पड़ोसी देशों के प्रति चीन के व्यवहार को लेकर मंत्री से सवाल पूछे। एडम्स ने कहा कि ब्रिटेन इन मुद्दों को द्विपक्षीय रूप से तथा संयुक्त राष्ट्र में हमेशा उठाता रहा है।

लद्दाख में जो हुआ, वह चीन की क्रूर नीति का हिस्‍सा
अमेरिकी राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट सी ओ ब्रायन ने कहा था कि चीनी कम्‍युनिस्ट पार्टी और उसके महासचिव शी जिनपिंग के नेतृत्‍व में चीन से जो खतरा उत्‍पन्‍न हुआ है, उसे समझने में दुनिया ने देरी की है। उन्‍होंने कहा कि इस मामले में अमेरिका से भी चूक हुई है। अमेरिकी विदेश नीति चीन की कम्‍युनिस्ट पार्टी की चाल को समझने में नाकाम रही है। उन्‍होंने कहा, पूर्वी लद्दाख में जो भी हुआ वह चीन की क्रूर नीति का एक हिस्‍सा है। उससे दुनिया को सबक लेना चाहिए।

गलती की सजा देगा हिंदुस्थान
चीनी आर्मी ने हिंदुस्थान की सीमा में कदम रखा था उसका जवाब भारत की आर्मी ने चीन को दे दिया है। चीन आगे जब भी कुछ गलत करेगा उसे उसकी गलती सजा हिंदुस्थान जरूर देगा।
– देवेंद्र पटवा

बौखलाया चीन
हिंदुस्थान द्वारा चीनी ऐप पर लगाए गए प्रतिबंध से चीन बौखला गया है। लद्दाख में सख्ती से चीन के साथ पेश आनेवाले हिंदुस्थान ने अब आर्थिक मोर्चे पर अपना सरसंधान लगाया है। ५९ चीनी ऐप्स को गूगल प्ले से हटाने का आदेश भी दिया गया है। अब चीन को आर्थिक मार झेलना ही होगा।
– शिल्पा जेजुरकर

टिकटॉक बंद करने के लिए सरकार का शुक्रिया
भारत सरकार का शुक्रिया, जिसने टिकटॉक सहित ५९ चीनी एप्लिकेशन को बंद किया है। नौजवानों को देश के विकास के लिए काम करना चाहिए। चीन के द्वारा किए गए हमले में शहीद सैनिकों के बाद भी कई लोग चीनी एप्लिकेशन का इस्तेमाल कर रहे हैं। ये ऐसे लोग हैं जो खुद के बारे में सोचते है। मैं देश के साथ हूं एवं इस बारे में हर फैसले का समर्थन करती हूं। – अंकिता पांडेय

शरीर के लिए चीनी हानिकारक है
शरीर एवं राष्ट्र, दोनों को स्वस्थ रखने का एक ही उपाय है ‘चीनी बंद’। शरीर के लिए ‘देसी गुड़’ और राष्ट्र के लिए ‘देसी गुड्स’। शरीर के लिए चीनी हानिकारक होती है।
– प्रियंका सिंह

हम आत्मनिर्भर बनेंगे
चीन के लिए भारत एक बहुत बड़ा बाजार है, जिससे वो हर साल लाखों करोड़ों का सौदा करता है। भारत के लगभग हर सेक्टर में चीन का सामान मौजूद है, लेकिन अब इस मौजूदगी को घटाने के लिए देश में कई बड़े अभियान चलाए जा रहे हैं। खुद देश का व्यापारी समूह चीन के खिलाफ एकजुट होकर एक बहुत बड़े अभियान का आगाज करने जा रहा है। हम प्रतिज्ञा लेते हैं कि हम आत्मनिर्भर बनेगें और चीनी सामान का बहिष्कार करेंगे और इस युद्ध में हिस्सा लेकर भारत को जीत दिलवाएंगे। – रिद्धि चौबे

चीनी उत्पादनों का आयात बंद करो
चीन का सामान खरीदने लोग हिंदुस्थान से चायना नहीं जाते। सरकार द्वारा चीनी सामान को दी गई मंजूरी से ही ये सामान यहां आता है। इसलिए सरकार को टिकटॉक की तरह ही बॉर्डर पर ही चीन के समान को रोक देना चाहिए और चीनी आइटम्स का आयात बंद कर देना चाहिए।- ऋषिमन सिंह

युवा हो जागरूक
सोशल मीडिया पर आज सभी भारतीय युवा चीन की निंदा कर रहे हैं। युवाओं को जागरूक होकर चीनी सामान का बहिष्कार करना होगा। टिकटॉक जैसे विभिन्न ऐप बंद होने के बाद देश के लोग बेहद खुश हैं। – अभिषेक मिश्रा

चीनी सामानों के बायकॉट में नागरिक करें सहयोग
चीन से युद्ध केवल सरकार और सेना का नहीं है, यह हिंदुस्थान के हर नागरिक का युद्ध है और हर भारतीय इसमें सहयोग कर सकता है। चीनी ऐप्स के बाद अब चीन के सामान को बायकॉट कर हम हमारे देश के शहीदों की मौत का बदला ले सकते हैं।
– विक्रांत जोशी

चीन को अच्छा सबक मिलेगा
विभिन्न चायनीज ऐप के जरिए चीन न सिर्फ हिंदुस्थान से पैसे कमा रहा था, बल्कि हमारे देश के निजी मामलों पर नजर बनाकर हस्तक्षेप करने की भी कोशिश कर रहा था, जिससे हिंदुस्थान को खतरा था। चायनीज ऐप पर रोक लग जाने से अब चीन को अच्छा सबक मिलेगा। – ओमकार वैष्णव

सभी चीनी सामान ठुकराओ
भारत द्वारा चीन से जितना ज्यादा सामान निर्यात किया जाता है, उससे कहीं गुना ज्यादा सामान आयात किया जाता है। यही कारण है कि चीनी कारोबार फल-फूल रहा है और संपूर्ण विश्व में चीन अपना वर्चस्व स्थापित कर रहा है। चीन को नियंत्रित करने के लिए हमें चीनी सामान का बहिष्कार करना होगा। कपड़ों से लेकर मोबाइल तक सभी सामान ठुकराने होंगे। – करण द्विवेदी

मुंहतोड़ जबाब देंगे
आज हमारा पूरा देश चीन द्वारा परोसे गए कोविड-१९ का शिकार हो रहा है। लेकिन उसे यह नहीं भूलना चाहिए कि हमारे देश के जवान उसको सबक सिखाने के लिए सीमा पर डटे हुए हैं। – प्रकाश गिडवानी

दुकान समेटने का समय
चीन की गद्दारी से देशवासियों का विश्वास उस पर से उठ गया है। देशवासी अब जाग गए हैं। अब चीन का भारत से अपनी दुकान बंद करने का समय आ गया है। – सुनील गुप्ता

अपना सामान देश का सम्मान
गद्दार चीन को रास्ते पर लाने का अब एक ही रास्ता है।देश अब जल्द ही आत्मनिर्भर बने। हमें स्वदेशी वस्तु खरीदकर देश का सम्मान करना चाहिए।
– खूशबू उपाध्याय
रास्ते पर आएगा चीन
भारत से पंगा लेना अब चीन को मंहगा पड़नेवाला है।सीमा पर की गई गद्दारी से पूरा देश नाराज है। जिस तरह से उसके सामानों का बहिष्कार हो रहा है, उससे ये साबित हो रहा है कि वो जल्द ही रास्ते पर आ जाएगा। – गिरीश वारिया