चुनावी प्रचार सामग्री में शिवसेना सरस

लोकसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मुंबई में प्रत्याशी प्रचार के लिए सड़कों पर उतर आए हैं। कांग्रेस, राकांपा सहित विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के मुकाबले शिवसेना-भाजपा महायुति के प्रत्याशियों ने प्रचार में जहां बाजी मारी है, वहीं चुनावी सामग्री के बाजार में भी शिवसेना सरस पर है। इन बाजारों में शिवसेना चिह्न वाली चुनावी प्रचार सामग्री सबसे अधिक बिक रही है।
बता दें कि लोकसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। सभी दलों के प्रत्याशी प्रचार के लिए गली-मोहल्ले छान रहे हैं। प्रत्याशियों के प्रचारों के साथ-साथ चुनावी प्रचार सामग्री बेचनेवाले बाजार भी विभिन्न राजनीतिक दलों के ध्वज, चुनावी चिह्न के बिल्ले आदि से सज गए हैं। लालबाग, चेंबूर, अंधेरी, क्रॉफर्ड मार्केट आदि इलाकों में स्थित चुनावी प्रचार सामग्री के बाजारों में पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ देखी जा सकती है। इस बार तो चुनाव में पार्टी के चुनावी चिह्नवाले मोबाइल पॉप सॉकेट भी बाजारों में आ गए हैं। चर्चित मोबाइल एसेसरीज मार्वेâट सारा-सहारा और मनीष के कई मोबाइल दुकानें राजनीतिक सॉकेट से सजे हुए हैं। दुकानदार असलम मलकानी ने बताया कि अन्य पार्टियों के मुकाबले शिवसेना के चुनाव चिह्नवाले पॉप सॉकेट की मांग सबसे अधिक है। बढ़ती मांग और चुनाव को देखते हुए जल्द ही विभिन्न पार्टियों के मोबाइल कवर भी बाजारों में उपलब्ध होंगे। इसके अलावा लालबाग परिसर की दुकानें विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के ध्वज, बटन, बिल्ला, टोपी, मफलर, भगवा फेटा, आदि वस्तुओं से सजे हुए हैं। रात के समय जगमगानेवाले पार्टियों के चुनावी चिह्न बिल्लों की बिक्री जोरों पर है। सतीश शाह नामक दुकानदार ने बताया कि शिवसेना-भाजपा महायुति के प्रचार सामग्री की बिक्री सबसे अधिक है।