चुनाव में लगाओ चौके-छक्के, उद्धव ठाकरे ने कराया मतदाता शक्ति का एहसास

चौके-छक्के, सेंचुरी लगाना ही चाहिए। अब तो आईपीएल शुरू है। शिवाजीराव एक नाम हैं और उनकी ताकत आप हो। ये चौके-छक्के आपको लगाना है। ये जनसैलाब देखकर यह तय है कि आप चौके-छक्के लगाकर आएंगे। इन शब्दों में शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे ने जनता को उनकी मतदाता शक्ति का एहसास दिलाया।
कल शिरूर और मावल लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के महायुति प्रत्याशी शिवाजीराव आढलराव पाटील और श्रीरंग बारणे के प्रचारार्थ महायुति की विशाल सभा आयोजित की गई थी। सभा में उमड़े जनसैलाब को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने उक्त बातें कहीं। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने कहा कि प्रेम के आधार पर हम भगवा लेकर आगे बढ़ रहे हैं। ५० वर्षों में हमने न भगवा बदला है और न ही नेता। मेरी भारत मां और इस मिट्टी से ईमान रखनेवालों ने भगवा अपने कंधों पर लिया है। हम पर जान न्योछावर करनेवाली ये जनता हमें सम्मान के साथ दिल्ली भेजेगी, ऐसा विश्वास जताते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमसे कोई भी पूछता है कि हमारा प्रधानमंत्री का उम्मीदवार कौन है तो हम नरेंद्र मोदी का नाम लेते हैं लेकिन विपक्ष की स्थिति कुछ और ही है। विपक्ष कहता है कि पहले मतदान करो, बाद में प्रधानमंत्री कौन बनेगा, देखेंगे। विपक्ष के महागठबंधन में शामिल सभी दलों के मुखिया को प्रधानमंत्री बनना है। यह कोई ‘संगीत कुर्सी’ नहीं है, ऐसा कटाक्ष करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमसे कहा जाता है कि जवानों के शौर्य पर राजनीति मत करो। राजनीति नहीं होनी चाहिए लेकिन जवानों के शौर्य पर शंका भी नहीं होनी चाहिए। तुम्हारा अविश्वास हम पर है, सेना के जवानों पर भी तुम्हारा विश्वास नहीं जो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगते हो? पाकिस्तान में बैठे लोग तुम्हारे रिश्तेदार हैं क्या? ऐसा सवाल करते हुए उद्धव ठाकरे कल विपक्ष पर जमकर बरसे। जवानों के शौर्य पर शंका करते हो और लोगों से वोट मांगते हो, तुम्हें शर्म नहीं आती? राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि इन्होंने अपने घोषणापत्र में देशद्रोह की धारा हटाने की बात कही है। देशद्रोह हम कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम सिर्फ भारत माता की जय ही नहीं बोलते बल्कि जो हमारी भारत माता से द्रोह करेगा, उसे हम छोड़ेंगे भी नहीं। देशद्रोह की धारा हटानेवाले प्रधानमंत्री बनने का सपना देखते हैं। देश मजबूत होना चाहिए। कई बार पाकिस्तान ने हम पर हमला किया लेकिन मोदी सरकार ने दो बार पाकिस्तान में घुसकर उन्हें सबक सिखाया। मेरी यह मांग है कि अगर उसने फिर हमला किया तो पाकिस्तान को ऐसा सबक सिखाया जाए कि उसका नामो-निशान भी न रहे। इस दौरान उद्धव ठाकरे ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की भी जमकर खबर ली। उन्होंने कहा कि बांग्लादेशियों को लात मारकर भगाओ, ऐसा शिवसेनाप्रमुख ने कहा था लेकिन ममता ने सिर्फ वोटों के लिए बांग्लादेश के कलाकार को बुलाकर हिंदुस्थान में प्रचार कराया। ऐसे लोगों को आप दिल्ली भेजोगे क्या? ऐसा सवाल करते हुए उद्धव ठाकरे ने विश्वास जताया कि महाराष्ट्र की सभी ४८ सीटों पर महायुति की जीत होगी। उन्होंने कहा कि मैं शिवसेना के २३ सांसदों का पालक हूं और जो न्याय आपको देना चाहिए, वह मैं देकर ही रहूंगा। उन्होंने मतदाताओं से आह्वान किया कि शिवाजीराव आढलराव और श्रीरंग बारणे को इतने भारी मतों से विजयी बनाएं कि विपक्षियों की जमानत जब्त हो जाए।