चुनाव में हिंसा की तैयारी!, विस्फोटकों के साथ दो गिरफ्तार

पश्चिम बंगाल की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने शनिवार को एक हजार किलो विस्फोटक पदार्थ (पोटैशियम नाइट्रेट) के साथ २ लोगों को गिरफ्तार किया। सूत्रों का कहना है कि दोनों आरोपी इंद्रजीत भुई और पद्मलोचन डे ओडिशा से विस्फोटक पदार्थ लेकर उत्तर २४ परगना जा रहे थे। एसटीएफ ने उनके बीटी रोड पर ताला ब्रिज के पास वाहन को रोककर तलाशी ली तो उसमें से विस्फोटक की बड़ी खेप बरामद हुई।
एसटीएफ का कहना है कि दोनों से पूछताछ की जा रही है कि विस्फोटक की इतनी बड़ी खेप दोनों किस मकसद से लेकर आ रहे थे। वाहन की तलाशी में पोटैशियम नाइट्रेट से भरे २७ बैग बरामद किए गए। सूत्रों का कहना है कि आम चुनाव से ठीक पहले विस्फोटक पदार्थ की इतनी बड़ी खेप का मिलना गंभीर मसला है। एसटीएफ जांच कर रही है कि कहीं इनका इस्तेमाल चुनाव के दौरान तो नहीं किया जाना था? पोटैशियम नाइट्रेट एक रासायनिक पदार्थ है। यह शोरा नाम के खनिज के रूप में मिलता है और नाइट्रोजन का प्राकृतिक ठोस स्रोत है। नाइट्रोजन से युक्त बहुत से यौगिकों को सामूहिक रूप से ‘शोरा’ कहते हैं। पोटैशियम नाइट्रेट उनमें से एक है। पोटैशियम नाइट्रेट का उपयोग मुख्यतः उर्वरक, रॉकेट के नोदक (प्रोपेलेंट) और पटाखों में होता है। यह बारूद के तीन घटकों में से एक है। इसे खाद्य संरक्षण के लिए उपयोग किया जाता रहा है।