" /> चेंबूर गोली कांड में पीड़ितों ने घटना से पहले लगाई थी न्याय की गुहार!

चेंबूर गोली कांड में पीड़ितों ने घटना से पहले लगाई थी न्याय की गुहार!

पुलिस ने किया था नजरअंदाज!

गत तीन दिन पहले चेंबूर तिलकनगर पुलिस की हद में एक टेलर पर हुई गोलीबारी कांड में नया मोड़ आ गया है। बताया जाता है कि घटना से कुछ दिन पहले ही पीड़ित परिवार ने एक लिखित शिकायत देकर पुलिस से न्याय की गुहार लगाई थी, जिसे पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया।
गौरतलब है कि 18 जून को चेंबूर के पी.एल. लोखंडे मार्ग निवासी एक 36 वर्षीय युवक व उसके परिजनों पर तीन से चार लोगों ने अंधाधुंध गोली चलाई थीं। इस घटना में सादिक खान नामक टेलरिंग का काम करनेवाला युवक बुरी तरह जख्मी हुआ था जबकि उसकी पत्नी मेहरून निशा बाल-बाल बच गई। घायल का इलाज सायन स्थित मनपा अस्पताल में चल रहा है। पुलिस सूत्र बताते हैं कि 15 दिन पहले आरोपियों ने मेहरून निशा के घर आकर उसके गले पर तलवार रखकर धमकाया था और यह बोलकर चले गए थे कि जल्द ही तेरा व तेरे पति का काम तमाम करेंगे। उसके दूसरे दिन यानी 5 जून को मेहरून निशा ने एक वकील के माध्यम से लिखित शिकायत देकर अपनी व अपने पति की सुरक्षा की गुहार लगाई थी। उसने अपने शिकायती पत्र में यह भी कहा था कि आरोपी मुझे कभी भी खत्म कर सकते हैं लेकिन पुलिस ने उक्त शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया, जिसका खामियाजा आज पीड़ित परिवार को भुगतना पड़ रहा है। मेहरून निशा के एक सहयोगी ने इस संवाददाता को बताया कि हमने अब यह मामला अपराध शाखा को हेंडओवर करने की मांग की है, जिससे आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा मिल सके! इस मामले में जांच अधिकारी से संपर्क करने पर उनका कहना था कि हमारा प्रयास है कि पीड़ित परिजन को पूरा न्याय मिले, जिसके लिए पुलिस उच्चस्तर पर मामले की जांच कर रही है।