चोरों का टार्गेट मोबाइल शॉप

मार्च माह की शुरुआत मोबाइल शॉपधारकों के लिए अपशकुन बनकर हुई है। चोरों के निशाने पर मोबाइल शॉप आ गई है। मीरा-भाइंदर शहर में अलग-अलग परिसरों में विगत १० दिनों के अंदर चार मोबाइल शॉप के शटर गैस कटर से काटकर चोर ४० से ५० लाख रुपए के मोबाइल ले उड़े।
भाइंदर-पूर्व के बीपी रोड स्थित भवानी इलेक्ट्रॉनिक्स को चोरों ने पहला निशाना बनाया। इस दुकान में एक मार्च की रात को गैस कटर से शटर काटकर चोर दुकान में घुसे और लाखों रुपए के मोबाइल फोन उड़ा ले गए। दूसरा और तीसरा निशाना ७ मार्च को चोरों ने काशी गांव के ग्रीन विलेज स्थित क्रमश: मां आशापुरा और आशापुरा मोबाइल शॉप को बनाया। इसके बाद चोरों ने चौथा निशाना ११ मार्च की रात में शिर्डी नगर स्थित सनफोन नामक मोबाइल शॉप को बनाया। चारों ही वारदातों में चोरों ने शटर को काटने के लिए गैस कटर का इस्तेमाल किया है, जिससे चोरी की वारदात किसी एक गैंग द्वारा किए जाने की बात सामने आई है।
एक के बाद एक लगातार इन चार वारदातों ने पुलिस के साथ-साथ मोबाइल दुकानदारों की भी नींद उड़ा दी है। कल दुकानदारों ने इस संबंध में पुलिस उपअधीक्षक अतुल कुलकर्णी और नवघर पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रामभाल सिंह से मुलाकात करने की कोशिश की। मोबाइल दुकानदारों के शिष्टमंडल के जीतू भाई ने बताया कि दोनों ही अधिकारी आगामी लोकसभा चुनाव संबंधी मीटिंग में कहीं अन्यत्र व्यस्त थे इसलिए उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। नवघर पुलिस थाने में उपस्थित पीएसआई टक्के ने चोरों पर मामला दर्ज कर शीघ्र ही चोरों को पकड़ने तथा पेट्रोलिंग बढ़ाने का आश्वासन दिया है।
१० दिनों में ४ को बनाया निशाना
४० से ५० लाख रुपए की चपत