" /> चौथा डेथ वारंट जारी!, २० को तड़के होगी फांसी

चौथा डेथ वारंट जारी!, २० को तड़के होगी फांसी

देश-दुनिया को झकझोर देनेवाले निर्भया कांड के दोषियों की फांसी के लिए दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने गुरुवार को नया डेथ वारंट जारी किया। यह चौथा डेथ वारंट है, इससे पहले तीन डेथ वारंट जारी हुए, जो फांसी की मुकर्रर तारीख के एक दिन पहले निरस्त होते रहे। दोषियों को सूली पर लटकाने के लिए कोर्ट ने अब चौथा फरमानी वारंट जारी किया। इसके साथ ही सामाजिक स्तर पर एक बहस छिड़ गई है। सोशल मीडिया पर लोग एक-दूसरे से पूछ रहे हैं कि क्या इस बार का डेथ वारंट सच्चा है या पहले की तरह झूठा साबित होगा? दरअसल लोग कोर्ट की गंभीरता पर भी सवाल उठाने लगे हैं।
बता दें कि पहला डेथ वारंट जब जारी हुआ था तो लोगों में न्याय के प्रति विश्वास बढ़ा था लेकिन लचर अदालती प्रक्रियाओं ने लोगों के मन को ठेस जरूर पहुंचाया है। बहरहाल कोर्ट ने २० मार्च सुबह ५.३० बजे निर्भया के चारों दोषियों को फांसी पर लटकाने का आदेश दिया है। निर्भया के दोषियों के सभी कानूनी विकल्प बुधवार को उस वक्त खत्म हो गऐ थे, जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने चौथे दोषी पवन गुप्ता की दया याचिका को खारिज कर दिया था। बाकी तीन आरोपियों की दया याचिका पहले ही खारिज की जा चुकी थी। उसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन फांसी की नई तारीख के लिए पटियाला हाउस कोर्ट पहुंचा था। तिहाड़ जेल प्रशासन ने कोर्ट को बताया कि निर्भया के सभी दोषियों के कानूनी विकल्प समाप्त हो चुके हैं। अब किसी दोषी की कोई याचिका कहीं भी लंबित नहीं है। ऐसे में कोर्ट को नया डेथ वारंट जारी करना चाहिए। दोषियों के वकील एपी सिंह ने बताया कि कोर्ट मीडिया के दबाव में पैâसला ले रहा है। उन्होंने चारों दोषियों की फांसी को उम्रवैâद में तब्दील करने मांग की है।
२३ को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, तो क्या २० को हो पाएगी फांसी?
नई दिल्ली। निर्भया के दोषियों के लिए अदालत ने चौथी बार डेथ वारंट जारी कर दिया है यानी अब निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों को २० मार्च को सुबह ५.३० बजे फांसी दे दी जाएगी। हालांकि इस बीच सुप्रीम कोर्ट में एक सुनवाई की तारीख आने के बाद सस्पेंस बनता दिख रहा है। दरअसल दोषियों को अलग-अलग फांसी दिए जाने को लेकर केंद्र सरकार की एक याचिका पर शीर्ष अदालत में २३ मार्च को सुनवाई होनी है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि क्या दोषियों को २० मार्च को फांसी दी जा सकती है?
निर्भया की मां ने खुशी जताई
निर्भया की मां आशा देवी ने कोर्ट के आदेश पर खुशी जताई है। उन्‍होंने कहा कि अभी ये दोषी फांसी को टालने के लिए कोई और पैंतरा अपना सकते हैं। हर चीज का एक अंत होता है और फाइनली उन्‍हें नए डेट पर फांसी दी जाएगी। जब तक दोषियों को फांसी नहीं हो जाती मैं हार नहीं मानूंगी। हर पल मैं लड़ने के लिए तैयार हूं। अब इन दोषियों को राहत नहीं मिलेगी। मेरी जीत उस दिन होगी जब ये चारों दोषी फांसी पर लटक जाएंगे।

ये भी पढ़ें…फांसी की तारीख आते ही चीख पड़े दोषियों के वकील