" /> छत्तीसगढ़ में गर्भवती महिलाओं के लिए बनाया गया पहला क्वारंटीन सेंटर

छत्तीसगढ़ में गर्भवती महिलाओं के लिए बनाया गया पहला क्वारंटीन सेंटर

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गर्भवती महिलाओं के लिए विशेष पृथक केंद्र बनाया गया है। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि पृथक केंद्र यहां से लगभग 120 किलोमीटर दूर केसला गांव में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में बनाया गया है। फिलहाल उसमें आठ गर्भवती महिलाएं ठहरी हुई हैं। वे सभी प्रवासी कामगार हैं, जो दूसरे राज्यों से यहां आई हैं।

उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशानुसार गर्भवती महिलाओं, बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों को पृथक केंद्रों में विशेष सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए पहला पृथक केंद्र बिलासपुर जिले के केसला गांव में बनाया गया है। अधिकारी ने कहा कि केंद्र में पौष्टिक आहार, स्क्रीनिंग सुविधाओं और सुरक्षा का इंतजाम किया गया है। दिन में तीन बार केंद्र की सफाई की जाती है। 24 घंटे चिकित्साकर्मी तैनात रहते हैं। राज्य में शनिवार तक 19,732 पृथक केंद्रों में 2,31,536 लोगों को रखा गया था, जिनमें अधिकतर प्रवासी कामगार हैं। इसके अलावा 52,997 लोगों को एहतियातन घरों में पृथक रखा गया है। छत्तीसगढ़ में अब तक 997 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इनमें से 734 लोगों का अब भी इलाज चल रहा है। 259 लोग ठीक हो गए हैं। चार लोगों की मौत हो चुकी है।