छाता से निकलेगा संगीत

आमतौर पर छाता धूप और बारिश से बचाता है। पर अब ये छाता आपका मोबाइल भी चार्ज करनेवाला है। इतना ही नहीं एक छाते की विशेषता तो ऐसी है कि आप बारिश में चलते-चलते अपने छाते से अपना मनपसंद गीत भी सुन सकते हैं क्योंकि सागर संस अपने हैप्पी अम्ब्रेला में देशवासियों को पहली बार इस तरह की तकनीक से लैस छाता दे रहा है। देश में पहली पावरबैंकवाला अम्ब्रेला आया है। इस छाते के हैंडल में कॉमन चार्जिंग पिन होने से उसमें एन्ड्राइड या आईओएस प्रकार का मोबाइल फोन चार्ज किया जा सकता है। चार्जिंग कोड हटाने के लिए कोर्ड बटन ही दबाना रहता है। पावरबैंक को से उसे अलग कर सकते हैं और स्वतंत्र रूप से भी चार्ज कर सकते हैं।
एक दूसरा टेक सेवी छाता भी है, जिसे ब्लू टूथ स्पीकर अम्ब्रेला कहते हैं। इस थ्री फोल्ड ऑटोवाले छाते में लगे ब्लू टूथ के द्वारा उसे मोबाइल फोन के साथ जोड़ा जा सकता है। उसमें मेमोरी कार्ड स्लाट है, जिसमें पसंदीदा संगीत का उपयोग किया जा सकता है और मेमोरी कार्ड में स्टोर किया जा सकता है। इससे बारिश में आप अपने मोबाइल फोन या मेमोरी कार्ड से अपना मनपसंद संगीत छाते के हैंडल में से सुन सकते हैं। बारिश के समय आप फोन अपनी जेब में रखकर संगीत का आनंद ले सकते है। ब्लू टूथ की सुविधा होने के कारण बारिश के समय अपने सेल फोन से वायरलेस के तरीके से बातचीत भी कर सकते हैं।
हैप्पी ब्रांड ने इसी तरह एक आटोक्लोज छाता लाया है। यह छाता शत प्रतिशत रस्ट प्रूफ, विंड प्रूफ है। तो गोल्फ एक्शटेंशन छाता तो पवन प्रतिरोधक छाता कहलाता है। सागर संस के निदेशक जयेश चोपड़ा ने इन छाातों की जानकारी देते हुए बताया कि कहा कि कच्ची सामग्री का भाव बढ़ने से इस वर्ष छाते का भाव २० प्रतिशत महंगा हुआ है। मजदूरी खर्च भी १० से १२ प्रतिशत बढ़ गया है। यूएस डॉलर की मजबूती का भी इस व्यसाय पर असर है। छाता आम आदमी के उपयोग का सामान है, इसलिए छाता पर जीएसटी दर को १२ से घटाकर ५ प्रतिशत करना चाहिए।