" /> छोटी बात करेगी बड़ा काम

छोटी बात करेगी बड़ा काम

१) पिंजरे में आप किसी पक्षी को ले जाते हुए देखें या कोई पक्षी पिंजरे में है तो आप उन पक्षियों को लेकर उन्हें आजाद कर दें। इस कार्य से आपके ऊपर कैसा भी कर्ज हो आप उससे मुक्त हो जाएंगे। लेकिन यदि आपने अपने घर में किसी पक्षी को पिंजरे में रख रखा है तो आप आज नहीं तो कल कभी भी भयंकर कर्ज के बोझ तले दब जाएंगे।
२) सबसे पहले आप ताले की दुकान पर किसी भी शुक्रवार को जाएं और एक स्टील या लोहे का ताला खरीद लें। लेकिन ध्यान रखें ताला बंद होना चाहिए खुला ताला नहीं। ताला खरीदते समय उसे न दुकानदार को खोलने दें और न आप खुद खोलें। ताला सही है या नहीं यह जांचने के लिए भी न खोलें। बस बंद ताले को खरीदकर ले आएं।
उस ताले को एक डिब्बे में रखें और शुक्रवार की रात को ही अपने सोने वाले कमरे में बिस्तर के पास रख लें। शनिवार सुबह उठकर स्नान आदि से निवृत्त होकर ताले को बिना खोले किसी मंदिर या देवस्थान पर रख दें। ताले को रखकर बिना कुछ बोले, बिना पलटें वापिस अपने घर आ जाए। विश्वास रखें जैसे ही कोई उस ताले को खोलेगा आपकी किस्मत का ताला भी खुल जाएगा। यह जाना-माना प्रयोग है।
३) यदि घर में कोई मांगलिक कार्य होने वाला है और आप चाहते हैं कि वह निर्विघ्न संपन्न हो जाए तो इसके लिए एक उपाय है। जिस दिन मंगल कार्य हो उस दिन एक मुठ्ठी गेहूं लें और उसे लाल कपड़े में पोटली जैसा बांधकर उसे घर की पूर्व दिशा में किसी कोने में रख दें। आपका जो भी मंगल कार्य है, वह ईश्‍वर की कृपा से आपके ईष्टदेव की कृपा से बिना किसी बाधा के पूरा हो जाएगा।
४) हिंदू धर्म में एकादशी और प्रदोष का व्रत रखने के पीछे का विज्ञान यह कि यह आपके चंद्र और शनि के खराब असर को बेअसर कर शुभ में बदल देता है। प्रत्येक पक्ष (शुक्ल और कृष्ण पक्ष) की एकादशी और त्रयोदशी को विधिपूर्वक व्रत रखेंगे तो निश्चित ही आपके ‍जीवन से निर्धनता और सभी तरह के संकट दूर हो जाएंगे।
ये भी करके देखिए!
१) सप्ताह में एक बार समुद्री नमक से पोंछा लगाने से घर में शांति रहती है। घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होकर घर में झगड़े भी नहीं होते हैं तथा लक्ष्मी का वास स्थायी रहता है।
२) प्रत्येक अमावस्या को घर की सफाई की जाए। फालतू सामान बेच दें तथा घर के मंदिर में पांच अगरबत्ती लगाएं।
३) प्रत्येक पूर्णिमा को कंडे के उपले को जलाकर किसी मंत्र से १०८ बार आहुति से घर की नकारात्मकता दूर होती है।
४) यदि आप गुरुवार को पीपल में सादा जल चढ़ाकर घी का दीपक जलाएं तथा शनिवार को गुड़ तथा दूध मिश्रित जल पीपल को चढ़ाकर सरसों के तेल का दीपक जलाएं तो आप कभी भी आर्थिक रूप से परेशान नहीं होंगे।
५) कपूर जलाना हर घर में जरूरी है। इससे ऊपरी बाधा नहीं आती, नहीं होती और यदि होगी भी तो दूर होती है।

घर का वैद्य
१) दालचीनी गैस की समस्या दूर करने में मदद करती है। इसके लिए एक चम्मच दालचीनी पाउडर को गर्म पानी में मिलाकर पीजिए। आप चाहें तो इसमें शहद भी डाल सकते हैं।
२) दो चम्मच बेकिंग पाउडर लें। इसमें पानी मिलाकर एक सेमी-लिक्विड घोल बना लें। इसे गर्दन पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। गर्दन का कालापन कुछ दिनों के इस्तेमाल से ही दूर हो जाएगा।
३) सबसे पहले एक बर्तन में पानी गर्म करें। अब इसमें हल्दी, तुलसी के पत्ते डालकर इसे तब तक उबालें जब तक यह पानी उबल-उबल कर आधा न रह जाए। इसके बाद गैस बंद कर दें और इसमें शहद मिला दें। अगर आपको गले में ज्यादा खराश महसूस हो रही है तो इसमें मुलेठी भी मिला लें। आपकी दवा बनकर तैयार है। दिन में दो से ज्यादा बार इसे न लें। यह आपकी खांसी को दूर कर इम्यून पावर को बढ़ाने में भी कारगर है।
४) मेथी का सेवन शरीर की कई समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है। मेथी दाने में मौजूद प्रोटीन और अमीनो एसिड बालों को स्वस्थ बनाए रखने में बेहद फायदेमंद होता है। मेथी दाने का सेवन करने से बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और रूसी से छुटकारा मिलता है। इसमें मौजूद लेसिथिन नामक रसायन बालों को मजबूत बनाने का काम करता है।
५) अतिरिक्त नमक शरीर से तरल पदार्थ को सोख लेता है इसलिए नशा उतराने के लिए किसी स्पोर्ट्स ड्रिंक को पीयें।