" /> जम्मू-कश्मीर में मरनेवाले कोरोना मरीज हुए 18,  जम्मू में 56 दिनों बाद लौटी रौनक

जम्मू-कश्मीर में मरनेवाले कोरोना मरीज हुए 18,  जम्मू में 56 दिनों बाद लौटी रौनक

जम्मू-कश्मीर में बुधवार को कोरोना से एक और मौत हो गई। राज्य में अब तक 18 लोगों की कोरोना से जान जा चुकी है। इस बीच लॉकडाउन 4.0 के 56वें दिन मिलनेवाली छूट के बाद जम्मू में रौनक देखने को मिली है।

जानकारी के अनुसार, अनंतनाग जिले के बिजबिहाड़ा में 40 साल की महिला ने कोरोना संक्रमण की वजह से दम तोड़ दिया। अनंतनाग में कोरोना के कारण अब तक 4 मौतें हो चुकी हैं। इससे पहले मंगलवार को जम्मू और कश्मीर में 28 और कोरोना पॉजिटिव केस मिले थे। इनमें कश्मीर संभाग से 22 और जम्मू संभाग से 6 मरीज थे। मंगलवार तक प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 1,317 हो गई थी। इनमें 653 सक्रिय मामले हैं। अनंतनाग में 11, कुलगाम में सात, बारामुला में दो, गांदरबल और पुलवामा में एक-एक, कठुआ में दो, उधमपुर में दो, सांबा और राजोरी में एक-एक मरीज सामने आया है।

मंगलवार को जम्मू के सीडी अस्पताल से दो और कश्मीर संभाग के अलग-अलग अस्पतालों से 36 मरीजों के स्वास्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। मंगलवार को कोरोना संक्रमण से कश्मीर में एक और व्यक्ति की मौत हो गई थी। सोमवार को घाटी में तीन लोगों की जान गई थी। जिसके बाद अब तक प्रदेश में 18 लोगों की जान जा चुकी है। दूसरी ओर जम्मू-कश्मीर प्रशासन द्वारा जिला जम्मू को ओरेंज जोन में रखने के बाद दी गई रियायतों के साथ आज 55 दिन से बंद शहर के बाजार खुल गए हैं। पुरानी मंडी, कनक मंडी, राजेंद्र बाजार, रघुनाथ बाजार, परेड जहां लॉकडाउन के बीच विरानगी दिख रही थी, आज वहां फिर से सजे बाजार दिख रहे हैं। ग्राहकों की रौनक कम है परंतु दुकानदार इसी बात से काफी उत्साहित हैं कि करीब दो महीनों बाद ही सही उनकी रोजी-रोटी का साधन शुरू तो हुआ। दुकानदारों का कहना है कि अब बाजार खुल गए हैं, तो ग्राहक भी आ जाएंगे।