जलवा जोगेश्वरी का!, मुंबई सेंट्रल व बांद्रा के बाद आ रहा है पश्चिम रेलवे का तीसरा टर्मिनस

पश्चिम उपनगर के यात्रियों को तोहफा
गुजरात जानेवाली गाड़ियां यहां से छूटेंगी
७० करोड़ की लागत से बनेगा टर्मिनस
पश्चिम रेलवे के मुंबई डिवीजन में मुंबई सेंट्रल और बांद्रा ये दो रेल टर्मिनस हैं। अब जोगेश्वरी भी जलवा दिखाने को तैयार है। जोगेश्वरी में एक नया टर्मिनस बनाने की योजना है। इसके लिए गत आम बजट में कुछ निधि आवंटित की गई है। जोगेश्वरी का यह नया टर्मिनस मुंबई से गुजरात को जोड़ेगा। खास बात यह है कि गुजरात के अधिक यात्री बोरीवली से ट्रेन पकड़ते हैं। इस टर्मिनस के बन जाने से काफी हद तक यात्रियों को सहूलियत होगी।
लोकल को मिलेगी रफ्तार
जोगेश्वरी में टर्मिनस का निर्माण होने से मुंबई से गुजरात और अन्य राज्यों में जानेवाली ट्रेनों को जोगेश्वरी से चलाया जाएगा। ऐसे में मुंबई सेंट्रल से अंधेरी के बीच रेल पथ क्लियर होने से लोकल ट्रेनों की रफ्तार तो बढ़ेगी ही, साथ ही लोकल सेवाओं को भी बढ़ाने में मदद होगी।
यात्रियों को होगी आसानी
जोगेश्वरी टर्मिनस के निर्माण के बाद मुंबई और गुजरात के बीच चलनेवाली करीब १२ विशेष ट्रेनें हैं, जो अमदाबाद, बड़ोदरा, और गांधीनगर के लिए चलती हैं, उन्हें जोगेश्वरी से चलाया जा सकता है क्योंकि ७० प्रतिशत यात्री बोरीवली से ट्रेन पकड़ते हैं। फिलहाल मुंबई सेंट्रल से ही गुजरात जानेवाली अधिकांश ट्रेनों का परिचालन होता है।
रेल मंत्रालय का इंतजार
जोगेश्वरी टर्मिनस के निर्माण के लिए अभी रेल मंत्रालय से ग्रीन सिग्नल मिलना बाकी है। टर्मिनस के निर्माण की प्रक्रिया अपने अंतिम चरण में है। माना जा रहा है कि इसी महीने के अंत तक रेल मंत्रालय का ग्रीन सिग्नल टर्मिनस बनाने के लिए मिल जाएगा।
`७० करोड़ आएगी लागत
जोगेश्वरी टर्मिनस निर्माण के लिए करीब ७० करोड़ रुपए की लागत आएगी। टर्मिनस जोगेश्वरी और राम मंदिर स्टेशन के बीच पूर्व दिशा में बनाया जाएगा। गत आम बजट में इस परियोजना के सर्वे के लिए १० लाख रुपए की राशि आवंटित की गई थी।
दो साल में होगा तैयार
जोगेश्वरी से ईस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे, बोरीवली स्टेशन और अंधेरी-घाटकोपर मेट्रो ये तीनों महत्वपूर्ण ठिकाने नजदीक हैं। यहां के लोगों को दूर न जाना पड़े इसलिए टर्मिनस की सुविधा यहां होने से लाखों यात्रियों को राहत मिलेगी, ऐसी मांग यहां के लोगों की है। रेल अधिकारियों की मानें तो योजना के मुताबिक सब कुछ ठीक रहा तो दो साल में जोगेश्वरी टर्मिनस बन कर तैयार हो जाएगा।