" /> जापान का जादू स्क्रेमजेट!, ड्रैगन के होश ठिकाने लगाएगा

जापान का जादू स्क्रेमजेट!, ड्रैगन के होश ठिकाने लगाएगा

चीन जिस तरह अपने पड़ोसियों से उलझ रहा है, उससे जापान भी अलर्ट हो गया है। पूर्वी चीन सागर में द्वीपों को लेकर बढ़ते विवादों के बीच जापान ने अब हाइपरसोनिक एंटी शिप मिसाइल को बनाने के संकेत दिए हैं। ये मिसाइल समुद्र में चीन के किसी भी प्रकार के हिमाकत का मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम होगी। चीनी शिप में लगे रडार जब तक इस मिसाइल के बारे में पता लगाएंगे तबतक यह प्रलय बनकर उनके युद्धपोतों को डुबा देगी। इस मिसाइल में स्क्रेमजेट इंजन होगा जो ड्रैगन के होश ठिकाने लगाएगा।
जापानी उप रक्षा मंत्री तोमोहीरो यमामोटो ने टोक्यो के पास स्थित रिसर्च सेंटर फॉर एविएशन एंड रॉकेट टेक्नोलॉजी का दौरा करने के बाद इस घातक मिसाइल की फोटो को खुद शेयर किया। उन्होंने कहा कि मैंने यहां जापान के नेक्स्ट जेनरेशन फाइटर, लाइटवेट एयरक्राफ्ट स्ट्रक्चर, स्टेल्थ टेक्नोलॉजी ऑफ वेपन रिलीज, जेट इंजन और स्क्रेमजेट इंजन के विकास के बारे में जानकारी प्राप्त की। जापानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, उप रक्षा मंत्री ने जानबूझकर इन तस्वीरों को शेयर किया, जिसमें सबसे अधिक चर्चा स्क्रैमजेट इंजन की हो रही है। स्क्रैमजेट इंजन वह तकनीक है जिसका उपयोग इस भविष्य की एंटी-शिप मिसाइल के लिए किया जाएगा। समुद्र में चीन और जापान के बीच तनाव चल रहा है। ऐसे में माना जा रहा है कि जापानी उप रक्षा मंत्री ने चीन को निशाना बनाकर यह ट्वीट किया। बताया जा रहा है कि जापान ने हाइपरसोनिक एंटी शिप मिसाइल बनाने की शुरुआत २०१९ से की थी। जिसके अगले कुछ साल में तैयार होने की उम्मीद है। इस मिसाइल में ड्यूअल मोड स्क्रेमजेट इंजन प्रयोग किया जाएगा। जो मिसाइल को मैक ५ से भी तेज गति से उड़ाने में सक्षम होगा। आम तौर पर दुनिया में गिनी चुनी मिसाइल ही स्क्रैमजेट तकनीक पर काम करती है।